अपने यूजर्स के बारे में कितना जानती है Amazon, प्राइवेसी रखने के लिए करें यह काम

punjabkesari.in Friday, Mar 04, 2022 - 11:44 AM (IST)

इंटरनेशनल डेस्क: अमेरिकी ई-कामर्स कंपनी अमेजन (Amazon) के फाउंडर जेफ बिजोस की नेटवर्थ 400 अरब डॉलर के पार पहुंच गई है। दुनिया के अमीरों की लिस्ट में टॉप पर काबिज जेफ बेजोस की कहानी दिलचस्प है। केवल 3 कंप्यूटर से अमेजन कंपनी गैराज में शुरू हुई थी। ऑनलाइन बिक्री का सॉफ्टवेयर खुद बेजोस ने बनाया था। उन्होंने अमेज़न की शुरुआत एक गैरेज से पुरानी किताबें बेचने के आइडिया से की थी। इसी बीच खबर है कि अमेजन के पास अपने यूजर्स की गतिविधि के बारे में जानकारी एकत्र करने के कई तरीके हैं। ऐसे में यूजर्स चाहे अमेजन प्राइम इस्तेमाल करते हों या फिर एलेक्सा, कंपनी के पास उनके बारे में जानने के कई तरीके मौजूद हैं। मगर ये एक बड़ा सवाल है कि अमेजन अपने यूजर्स के बारे में कितनी जानकारी इकट्ठा कर सकता है और यूजर्स अपने जीवन को निजी रखने के लिए क्या कर सकते हैं? 

 

अमेजन एक बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी है, जिसकी वेबसाइट या ऐप पर जाकर करोड़ों यूजर्स तरह-तरह की सुविधाओं का इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में यूजर्स को चाहे कुछ ऑनलाइन शॉपिंग करनी हो या फिर अमेजन प्राइम का इस्तेमाल करना हो, वो बेझिझक इसे यूज करते हैं। हालांकि कई लोगों को इस बात की जानकारी नहीं कि कंपनी आपके बारे में कितना जानती है और यूजर्स इसे कैसे रोक सकते हैं? बता दें कि ग्राहक डेटा का निरंतर विश्लेषण अन्य बातों के अलावा कीमतों, सुझाई गई खरीदारी और अमेजन द्वारा उत्पादित लाभदायक स्वयं-लेबल उत्पादों को निर्धारित करता है।

 

200 मिलियन यूजर्स जो अमेजन प्राइम के सदस्य हैं, वो न केवल कंपनी के सबसे मूल्यवान ग्राहक हैं, बल्कि यूजर डेटा का उनका सबसे समृद्ध स्रोत भी हैं। ऐसे में यूजर्स जितना ज्यादा अमेजन और उसकी सेवाओं का उपयोग करते हैं- चाहे वह शॉपिंग ऐप, किंडल ई-रीडर, रिंग डोरबेल, इको स्मार्ट स्पीकर या प्राइम स्ट्रीमिंग सेवा हो- कंपनी यूजर्स के एल्गोरिदम से यह अनुमान लगा सकती है कि उसके यूजर्स किस तरह के व्यक्ति हैं और उनके द्वारा आगे सबसे ज्यादा क्या खरीदने की संभावना है। 

 

बता दें कि अमेजन का सॉफ्टवेयर भविष्यवाणी में इतना निपुण है कि थर्ड पार्टी अपने एल्गोरिदम को अमेजन फोरकास्ट का इस्तेमाल करते हैं। इस स्तर की निगरानी से हर कोई खुश नहीं है। जिन लोगों ने अमेजन से अपने डेटा का अनुरोध किया है, वे उनके द्वारा भेजी जाने वाली बड़ी मात्रा में जानकारी से चकित हैं, जिसमें हर बार कंपनी के वॉयस असिस्टेंट एलेक्सा से बात करने वाली ऑडियो फाइलें शामिल हैं। अपने डेटा हथियाने वाले समकक्षों गूगल और फेसबुक की तरह अमेजन की प्रैक्टिसेज भी नियामकों की जांच के दायरे में आ गई हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News