5 ग्रहों का योग: जो सोचा वह होगा नहीं, जिसे नहीं सोचा वह अचानक हो जाएगा

punjabkesari.in Thursday, Mar 03, 2022 - 08:29 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Panch Grahi Yog 2022: 27 फरवरी से  आकाश में 5 ग्रह ‘शनि, मंगल, चंद्रमा, शुक्र और बुध’ मकर राशि में आकर देश की दशा और दिशा बदलने में निर्णायक साबित हो चुके हैं। आपको याद होगा 1962 में 8 ग्रह अर्थात अष्टग्रही का योग बना था और चीन ने भारत पर हमला किया था। जब भी कुछ ग्रह विशेष राशि में एक साथ आ जाते हैं तो देश, काल, पात्र के अनुसार कुछ परिवर्तन अवश्य आते हैं। अक्सर सीमा विवाद होते हैं। इन दिनों ये पंचग्रही योग रूस और यूक्रेन के मध्य सीमा विवाद बढ़ा रहे हैं। युद्ध 1962 में भी हुआ था और 2022 में भी हो रहा है। तब भी अंतर्राष्ट्रीय मसला बना था, आज भी बना है।

PunjabKesari Panch Grahi Yog

ज्योतिष शास्त्र ऐसी खगोलीय घटनाओं का जनजीवन पर अपेक्षित प्रभावों तथा बदलाव का विवेचन करता है। भारत में हो रहे चुनावों के अप्रत्याशित परिणाम आएंगे। कुछ सत्तारूढ़ होंगे, कुछ सत्ता खो बैठेंगे। ये पंचग्रही योग 27 फरवरी से 10 मार्च तक प्रभावी रहेगा और इसी मध्य इलैक्शन के परिणाम भी आ जाएंगे। इन दिनों काल सर्प योग भी प्रभावी रहेगा जो अप्रत्याशित घटनाओं का द्योतक है।

यदि मोटे तौर पर देखें तो 5 ग्रहों का मकर राशि में बना जमघट 5 राशि के लोगों के लिए जीवन में अच्छा परिवर्तन लाएगा। मेष, वृष, कर्क, तुला, मकर राशि वालों को चुनावों का लाभ मिलेगा। खोई सत्ता प्राप्त होगी या नई सत्ता मिलेगी। इन राशि के छात्र जातकों को शिक्षा, नौकरी आदि में लाभ मिलेगा। व्यापारियों को अपने व्यवसाय, रियल एस्टेट से जुड़े लोगों का भाग्य खुलेगा यानी रुकी प्रापर्टी डील पूरी होगी।

PunjabKesari Panch Grahi Yog

जिन लोगों की कुंडली में शुक्र, शनि, बुध, चंद्र तथा मंगल अच्छी पोजीशन में हैं, उनके लिए 5 ग्रही योग किस्मत पलटने वाला योग सिद्ध होगा।

27 फरवरी, 2022 से मकर राशि में विशेष पंचायत आरंभ हो चुकी है। बुध, मंगल व शनि पहले से इस में बैठे थे, अब चंद्रमा भी प्रवेश कर चुका है और शुक्र भी आ जाएंगे।

इसलिए 5 राज्यों के चुनावी नतीजे इन 5 ग्रहों से प्रभावित रहेंगे। चुनाव के परिणाम 10 मार्च को अपेक्षित हैं। तीन ग्रह - शुक्र, मंगल और शनि मकर राशि में और दो ग्रह बुध व गुरु, कुंभ राशि में रहेंगे।

मकर तथा कुंभ राशियां शनि ग्रह से संचालित हैं। जिनकी कुंडली में शनि उच्च या कारक ग्रह हैं, उनके लिए इलैक्शन के रिजल्ट किस्मत पलट साबित होंगे।

जिनके जन्मांग में पूर्ण कालसर्प योग है, उनका भाग्य भी बदलने वाला है। अर्श से फर्श पर और फर्श से अर्श तक की पोजीशन बनेगी अर्थात अचानक सरकार का फायदा मिल सकता है। जो सोचा वह होगा नहीं, जिसे नहीं सोचा वह अचानक हो जाएगा- यही है कालसर्प योग का कमाल।

PunjabKesari Panch Grahi Yog


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Related News

Recommended News