मकर में Entry ले चुके हैं बुध, जानें क्या आपको देंगे शुभ प्रभाव

2020-01-14T13:22:01.163

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
ज्योतिष विद्वानों के अनुसार बीते रविवार यानि 12 जनवरी, 2020 को बुध ग्रह का मकर राशि में प्रवेश कर चुका है। ये परिवर्तन 12 जनवरी को सुबह 11 बजकर 34 मिनट पर हुआ है जो ये 30 जनवरी को देर रात 2 बजकर 53 मिनट तक रहेगा। हर राशि परिवर्तन की तरह इस परिवर्तन का भी ज्योतिष की 12 राशियों पर विभिन्न प्रकार का प्रभाव पड़ेगा। तो चलिए जानते हैं बुध के इस बदलाव से कौन सी अधिक राशि प्रभावित होने वाली है। मगर इससे पहले आपको बुध ग्रह से जुड़ी कुछ खास बातें बता दें। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक बुध, मिथुन और कन्या राशि का स्वामी है। इसकी दिशा उत्तर है, तो वहीं इसका तत्व पृथ्वी है। बुध विद्या, शिल्प, कम्प्यूटर, वाणिज्य और चतुर्थ तथा दशम स्थान के कारक माने जाते हैं। साथ ही साथ इन्हें बुद्धि और वाणी का देवता भी कहा जाता है। जिस कारण इनका सीधा प्रभाव दिमागी रूप से मेहनत वाले कामों पर पड़ता है, जबकि शरीर में मुख्य रूप से गले और कंधों पर रहता है।
PunjabKesari, Mercury, बुध
मेष राशि
बताया जा रहा है कि मेष राशि में बुध दसवें स्थान पर गोचर कर रह है, जो ज्योतिष की दृष्टि से शुभ माना जा रहा है। इसके शभ प्रभाव से आपको करियर में एक नया उछाल आएगा जो आपके लिए लाभकारी साबित होगा। ध्यान रहे इस गोचर के दौरान किसी भी प्रकार का लालच न करें, भारी पड़ सकता है।
उपाय-
जितना हो सके बाहर का खाना-पना नंजरअंदाज़ करें साथ ही साथ मसालेदार खाने से भी बचें।

वृष राशि
इस राशि के जातकों को बता दें बुध आपके नवें स्थान पर गोचर कर रहा है, जो आपके लिए शुभ नही माना जा रहा। इसके चलते आपका अच्छा वक्त बुरे वक्त में बदल सकता है। इसलिए किसी भी तरह के काम को अंजाम देने से पहले बड़ों से सलाह ज़रूर लें। खासतौर पर व्यापार संबंधी फैसलें लेते समय ध्यान दें।
उपाय-
लोहे की लाल रंग की गोली अपने पास रखें।
मिट्टी के बर्तन में खुंबियां रखें और  उसके ढक कर लगाकर मंदिर में दे आएं।

मिथुन राशि 
मिथुन वालों बुध आपके आठवें स्थान पर गोचर करेगा। बता दें ज्योतिष शास्त्र में यह स्थान आयु से संबंध रखता है। माना जा रहा है इन्हें शुभ प्रभाव तो मिलेंगे परंतु इसके लिए इन्हें अधिक मेहनत करनी होगी। साथ ही साथ अपनी सेहत का खास ध्यान रखना होगा। कुछ लोग इस गोचर दौरान अपना मकान भी बदल सकते हैं।  
उपाय-
मिट्टी के बर्तन में पिसी हुई शक्कर या शहद भरकर वीराने में दबा दें।
तांबे के बर्तन में साबुत मूंग भरकर, उसका ढक्कन बंद करके नदी में प्रवाहित कर दें।
PunjabKesari, साबुत मूंग
कर्क राशि
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कर्क राशि वालों की कुंडली में बुध सातवें स्थान पर गोचर कर रहा है, जिसे शुभ माना जा रहा है। इसका सबसे अधिक प्रभाव आपकी लव लाइफ पर पड़ने वाला है। जिसमें चार चांद लग जाएंगे। जीवनसाथी के साथ अंडरस्टेंडिंग और प्यार बढ़ेगा। जिनकी शादी नहीं हुई उनकी शादी हो सकती है। इसके अलावा जो लोग दस्तकारी के काम से जुड़े हैं, उन्हें विशेष लाभ होगा।
उपाय-
मां दुर्गा की उपासना करें।
अपनी बहन, बुआ को हरे रंग का कुछ गिफ्ट करें।ॉ

सिंह राशि
इस राशि के जातकों की कुंडली में बुध छठें स्थान पर गोचर करेगा, जो आपके लिए बेहद शुभ है। इसद दौरान आप दूसरों की मदद करेंगे जिससे आपके कई नए मित्र बनेंगे। तो वहीं पुराने दोस्तों के साथ रिश्ते और प्रगाढ़ होंगे। आपके शत्रुओं की संख्या कम होगी है।
उपाय-
घर से बाहर जाते समय किसी भी छोटी कन्या को फूल गिफ्ट करें।
दूध की बोतल वीराने में दबा दें।

कन्या राशि
कन्या वालो बुध आपके पांचवें स्थान पर गोचर कर रहा है। माना जा रहा है ये आपके लिए लिए शुभ तो होगा लेकिन निष्क्रिय साबित होगा। इससे बौद्धिक क्षमता बढ़ेगी। स्टूडेंट्स की पढ़ाई में रुचि बढ़ेगी। मैरिड लोगों को जीवन में भरपूर रोमांस और संतान का सुख मिलेगा।
उपाय-
गले में तांबे का पैसा धारण करें।
गाय की सेवा करें, स्वयं का और संतान का भाग्य उत्तम होगा।
PunjabKesari, utensils, तांबे के बर्तन, Brass Utensils
तुला राशि
चौथे स्थान पर गोचर कर रहा बुध का यह गोचर आपके साथ-साथ दूसरों के लिए भी शुभ माना जा रहा है। इससे आपको भूमि-भवन तथा वाहन का सुख मिल सकता है। साथ ही आपकी माता का स्वास्थ्य पहले से बेहतर होगा।
उपाय-
रोज़ाना मस्तक पर केसर का तिलक लगाएं। मन की शांति के लिए चांदी की चैन पहनें।

वृश्चिक राशि
इस राशि में बुध आपके तीसरे स्थान पर गोचर कर रहा है। यह गोचर आपके लिए अशुभ तो है परंतु निष्क्रिय होगा। इस दौरान भाई-बहन के बीच थोड़ी अनबन हो सकती है। इसलिए अपनी वाणी पर काबू रखें। इस पूरे गोचर दौरान अपने विचारों को अभिव्यक्त करने की पूरी कोशिश करें। साथ ही आप और आपके भाई-बहनों को मेहनत के अनुसार लाभ मिलेगा।
उपाय-
फिटकरी से दांत साफ़ करें, तथा चिड़ियों को रोज़ाना दाना डालें।

धनु राशि
धनु राशि वालों बुध आपकी कुंडली के दूसरे स्थान पर गोचर कर रहा है, जिसके शुभ प्रभाव के चलते आपको धन कोष में वृद्धि हो सकती है। साथ ही ये गोचर आपके परिवार वालों के लिए भी फायदेमंद साबित हो सकता है। बौद्धिक क्षमता अच्छी होगी और माता का सुख मिलेगा। ऑ
उपाय-
नाक में चांदी पहनें वरना मिट्टी का खाली घड़ा ढक्कन लगाकर नदी में बहा दें।

मकर राशि
मकर राशि वालों की कुंडली में बुध सबसे पहले स्थान पर, यानि लग्न स्थान पर गोचर करेगा। इस स्थान पर बुध के इस गोचर से धन प्राप्ति के साथ-साथ समाज में भरपूर मान-सम्मान मिल सकता है। साथ ही प्रेम-संबंधों में मज़बूती आएगी और संतान पक्ष को न्यायालय से लाभ मिलेगा।
उपाय-
हरे रंग के कपड़े पहनना अवॉयड करें।
प्रत्येक काम को करने से पहले उसकी दिशा सूची तैयार कर लें, ताकि बाद में आपका ध्यान न भटकें।

कुंभ राशि
बुध का ये गोचर बारहवें स्थान पर गोचर करेगा। जिससे आपको शैय्या सुख में थोड़ी दिक्कतें आ सकती है। अपने पैसे सम्भालकर रखने की भी आवश्यकता है, फालतु के खर्चों से जितना हो सके बचाव करें।
उपाय-
भगवान गणेश की उपासना करें और ‘ऊँ गं गणपतये नमः’ मंत्र का जाप करें।
इस गोचर के दौरान गले में पीला धागा पहनकर रखें।

मीन राशि
मीन राशि वालों की कुंडली के ग्यारहवें स्थान पर बुध गोचर करेगा। इससे प्रभाव से आपकी आमदनी में बढ़ोतरी होगी। साथ ही आपकी कोई पुरानी मनोकामना पूरी हो सकती है।
उपाय-
तांबे का पैसा गले में धारण करें।
PunjabKesari, मकर, Capricorn
 


Jyoti

Related News