आज शाम शुरू होगा चक्रवाती तूफान ''गुलाब'' का लैंडफॉल, आधी रात को तट से टकराएगा

09/26/2021 5:53:13 PM

नेशनल डेस्कः चक्रवाती तूफान ‘गुलाब' रविवार रात उत्तरी आंध्र प्रदेश के कलिंगापट्टनम और दक्षिण ओडिशा तटों पर दस्तक देगा। राज्य में पिछले छह घंटों के दौरान उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी में लगभग 10 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा पश्चिम की ओर बढ़ रही है और चक्रवाती तूफान आज सुबह साढ़े पांच बजे बंगाल की खाडी के उत्तर-पश्चिम और आसपास 18.3 डिगी उत्तर अक्षांश और आंध्र प्रदेश में कालिंगापट्टनम के 330 किलोमीटर पूर्व पर केन्द्रित था।

भारतीय मौसम विभाग के बुलेटिन ने कुछ देर पहले कहा कि इसके लगभग पश्चिम की ओर बढ़ने और कलिंगापट्टनम और गोपालपुर के बीच उत्तरी आंध्र प्रदेश-दक्षिण ओडिशा तटों को पार करने के आसार हैं। यह चक्रवाती तूफान 75-85 किमी प्रति घंटे और अधिकतम 95 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आज मध्यरात्रि के आसपास इन तटों पर दस्तक देगा। चक्रवाती तूफान के समुद्री तटों से टकराने के दौरान उत्तर तटीय आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम, सोमपेटा, विजयनगरम जिलों और ओडिशा के गंजम जिले के निचले इलाकों में 0.5 मीटर की ऊंचाई वाली ज्वार की लहर उठने के आसार है और बाढ़ आने का अनुमान जताया गया है।

बुलेटिन में कहा गया है कि गुलाब चक्रवाती तूफान के समुद्री तटों से टकराने के बाद दक्षिण ओडिशा और इससे सटे उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश में अगले छह घंटों के दौरान हवा की गति में मामूली कमी देखी जा सकती है और इसी के साथ चक्रवाती तूफान की तीव्रता जस की तस बने रहने का अनुमान है। इसके दक्षिण ओडिशा और दक्षिण छत्तीसगढ़ में पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की प्रबल संभावना जताया गयी है और बाद में अगले 12 घंटों के दौरान इसके धीरे-धीरे कमजोर होने का अनुमान जताया गया है।

आज मध्यरात्रि से सोमवार सुबह (27 सितंबर) तक उत्तरी आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापत्तनम जिले और दक्षिण ओडिशा के तटीय जिले गंजम, गजपति में 60-70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से धूलभरी आंधी चलने का अनुमान है। सोमवार को उत्तरी तेलंगाना में 40-50 किमी प्रति घंटे बढ़कर 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है।

चक्रवाती तूफान गुलाब के कारण दक्षिण मध्य रेलवे (एससीआर) ने 12 ट्रेनों को रद्द कर दिया है और कम दूरी वाली ट्रेनों को निरस्त, मार्ग परिवर्तन और रद्द कर दिया है। मौसम विभाग ने कहा कि तेज हवाओं और भारी और अति भारी बारिश होने के कारण झोपड़यिों को नुकसान होगा, पेडों और बिजली की खम्भे उखडने की आशंका जतायी गयी है और साथ ही संचार लाइनों को भी नुकसान हो सकता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Recommended News