आयुष्मान भारत योजना को और मजबूत करने की आवश्यकता: मांडविया

punjabkesari.in Tuesday, May 17, 2022 - 10:18 PM (IST)

नई दिल्लीः केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मांडविया ने सभी लोगों को सस्ती और गुणवत्ता युक्त स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने की प्रतिबद्धता जताते हुए मंगलवार को कहा कि आयुष्मान भारत योजना को और मजबूत करने की आवश्यकता है। 

मांडविया ने यहां 18 राज्यों में आयुष्मान भारत - स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों ,(एबी-एचडब्ल्यूसी) की मूल्यांकन रिपोटर् जारी करते हुए कहा कि एबी-एचडब्ल्यूसी की कल्पना अंतिम व्यक्ति तक सस्ती और सुलभ स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए की गई थी। इस संबंध में, योजना के कामकाज और कार्यान्वयन के उचित मूल्यांकन के लिए तीसरे पक्ष का मूल्यांकन महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि रिपोर्ट भविष्य में बेहतर योजना बनाने के लिए 'मार्गदर्शक सिद्धांत' के रूप में कार्य करेगी। इस अवसर पर नीति आयोग के स्वास्थ्य सदस्य डॉ. वी के पाल और स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण भी मौजूद थे। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना को और मजबूत करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार टेलीकंसल्टेशन के माध्यम से अंतिम व्यक्ति तक पहुंच सुनिश्चित करने के लिए राज्यों के साथ समन्वय कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार सभी को सर्वोत्तम स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। 

डॉ. पॉल ने कहा कि एबी-एचडब्ल्यूसी की दैनिक निगरानी और समीक्षा के लिए एक व्यवस्था स्थापित की जानी चाहिए। उन्होंने एबी-एचडब्ल्यूसी में मानव संसाधन को और प्रशिक्षित करने की आवश्यकता पर भी बल दिया।

रिपोर्ट के अनुसार दिसंबर 2022 के लिए निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए स्पष्ट रोडमैप के साथ अधिकांश राज्यों में एबी-एचडब्ल्यूसी योजना का कार्यान्वयन नियमित है। कुल मिलाकर, बुनियादी सुविधाओं की उपलब्धता और परिधीय स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थिति जैसी मौजूदा बाधाओं के बावजूद, पहुंच में सुधार हुआ है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News