इन 3 ग्रहों के कंबीनेशन से होगी ज्योतिषीय हलचल!

2021-05-04T10:13:26.99

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
ज्योतिष में ऐश्वर्या, सौंदर्य, ग्लैमर, प्रेम, विलासिता और सुख समृद्धि का प्रतीक माने जाने वाले शुक्र ग्रह मंगल की मेष राशि से निकलकर 4 मई को दोपहर 1:09 बजे पर अपनी वृषभ राशि में आ रहे हैं और वह  28 मई को 11:44 बजे तक इसी राशि में गोचर करेंगे। 4 मई को शुक्र ग्रह के वृषभ राशि में आने से वृषभ राशि में तीन ग्रहों का कंबीनेशन बनने जा रहा है। राहु तो पूरा साल इसी वृषभ राशि में गोचर करने वाले हैं और 4 मई को शुक्र का यहां राहु के साथ-साथ बुध के साथ भी कंबीनेशन बनेगा। 

शुक्र ग्रह की बुध, राहु और शनि देव की मित्रता है। लेकिन किसी की कुंडली में राहु और शुक्र की स्थिति यदि सातवें भाव यानी मैरिड लाइफ हाउस में बन रही है तो इस स्थिति में दांपत्य जीवन में परेशानी आ सकती है। बुध की राहु से मित्रता है। लेकिन जब ये दोनों साथ आते हैं तो व्यक्ति को मानसिक परेशानी भी देते हैं। जिस कारण लव रिलेशनशिप पर इसका कभी -- कभी नेगेटिव असर भी देखने को मिलता है। 

शुक्र को नैसर्गिक भोग विलास व दाम्पत्य का कारक भी माना जाता है। अंग्रेजी में इसे वीनस कहा गया है। यानी सौंदर्य की देवी। वृषभ राशि व तुला राशि शुक्र की अपनी राशियां है जबकि मीन राशि में वह उच्च के होते हैं। कन्या राशि में शुक्र नीच के माने जाते हैं। जिस किसी व्यक्ति की कुंडली में शुक्र मजबूत स्थिति में होते हैं , उसे जीवन में प्रेम और धन दोनों चीजें प्रदान करते हैं और जीवन में सुख सुविधाओं की बरसात करते हैं। प्रेम रस से लेकर जीवन के सारे रस हमें प्रदान करते हैं। शुक्र एक ऐसे ग्रह हैं जो हमारे जीवन को सर्वाधिक प्रभावित करते हैं।  

हमें आर्टिस्टिक नेचर देते हैं। हमें सौंदर्य प्रेमी बनाते हैं।  हमें स्त्री सुख , वाहन सुख  और धन का सुख प्रदान करते हैं । यानी पूरी विलासिता देते हैं । लेकिन यही शुक्र अगर खराब स्थिति में हों या नीच के हों तो हमें नीरसता प्रदान करते हैं। 

4 मई को शुक्र राहु और बुध का वृष राशि में कंबीनेशन बनने से होने वाली ज्योतिषीय हलचल मेष से लेकर मीन राशि तक  सभी 12 राशियां  प्रभावित होंगी। वृष राशि में एक साथ राहु, बुध और शुक्र ग्रह की युति होने से कुछ मामलों में लोगों को सावधान रहना होगा। शुक्र ग्रह वृषभ राशि में गोचर के दौरान 5 राशि वालों को अच्छी खबरें प्रदान करेंगे। 

यह भाग्यशाली राशियां हैं- 

वृषभ राशि जिसमें शुक्र का गोचर होगा और जो शुक्र की अपनी राशि है।

कर्क राशि जो चंद्रमा की राशि है।

तुला राशि जो शुक्र की राशि है।

धनु राशि जो देव गुरु बृहस्पति की राशि है। 

और कुम्भ राशि जो शनि की राशि है।

शुक्र के इस गोचर से 4 राशियों - मिथुन राशि, सिंह राशि, कन्या और वृश्चिक राशि वालों को थोड़ा सावधान रहना होगा। अपने स्वास्थ्य पक्ष का भी ख्याल रखना होगा और गुप्त शत्रुओं से भी सावधान रहना होगा । मैरिड लाइफ या लव लाइफ भी प्रभावित हो सकती है । या प्रेम संबंधों में थोड़ी नीरसता अनुभव करेंगे। अभी इन्वेस्टमेंट से भी बचना होगा। जबकि मेष, मकर व मीन राशि वालों को मिले जुले परिणाम मिलेंगे। अब उन 5 राशियों की बात करते हैं जिन्हें शुक्र के इस गोचर का काफी लाभ मिलने वाला है। 

वृषभ राशि वालों को शुक्र के  इस गोचर का  विशेष लाभ मिलने वाला है।  लव लाइफ अच्छी रहेगी । रोमांस के मौके मिलेंगे । मेहनत का अच्छा फल मिलेगा।  यह समय आपके लिए अच्छा है, इसका लाभ उठाने की कोशिश करें।

कर्क राशि वालों के लिए समय शुभ रहेगा और अच्छी खबरें मिलने से परिवार में खुशी का माहौल बनेगा। प्रेम संबंध प्रगाढ़ होंगे। रोमांस के मौके भी मिलेंगे।

तुला राशि वालों को मेहनत का पूरा फल मिलेगा।  बिजनेस में फायदा होगा। रोमांस के मौके मिलेंगे। 

धनु राशि वालों का प्रभाव व सुख-समृद्धि बढ़ेगी। सोचे हुए प्रोजेक्ट सिरे चढ़ जाएंगे।  परिवार में खुशियां आएंगी। जीवनसाथी के साथ अच्छा समय बीतेगा।  

कुम्भ राशि वालों पर शुक्र देव काफी मेहरबान रहेंगे। नया वाहन या प्रॉपर्टी खरीदने का संयोग भी बनाएंगे। आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी।  धन लाभ भी होगा।

गुरमीत बेदी 
gurmitbedi@gmail.com


Content Writer

Jyoti

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static