विजय दिवस पर कारगिल शहीद गुरदीप सोनी को श्रद्धांजलि अर्पित

2021-07-26T23:48:52.723

साम्बा : वर्ष 1999 में कारगिल युद्ध के दौरान देश की खातिर प्राण बलिदान करने वाले वीर जवान गुरदीप सिंह सोनी व कुलबीर सिंह को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। रामगढ़ क्षेत्र के रहने वाले सेना की 8 सिख रेजिमैंट के इन दोनों जवानों ने कारगिल में दुश्मन से लोहा लेते हुए वीरगति को प्राप्त किया था। गांव शेखुपुरा पलौटा निवासी शहीद सिपाही गुरदीप सिंह सोनी सेना मैडल सम्मानित पुत्र मोहन सिंह युनिट 8 सिख रेजिमैंट के स्मारक स्थल पर उनको परिजनों, सैन्य अधिकारियों, राजनेताओं व गणमान्य सदस्यों ने अपनी भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी।

 

इस मौके पर पूर्व मंत्री एवं जेके अपनी पार्टी के अध्यक्ष मंजीत सिंह मुख्यातिथि थे। इसके अलावा सेना की सात जैकराइफल सीओ अनिसूर ने भी कारगिल शहीद की प्रतिमा पर फूल चढाए और उनकी शहादत को नमन किया। शहीद के पिता मोहन सिंह, माता मंजीत कौर सहित परिजनों व शहीद समारक समिति सदस्यों ने भी शहीद को श्रद्धांजलि दी। कारगिल शहीदों की शहादत को नमन करते हुए पूर्व मंत्री मंजीत सिंह ने जवानों की वीरता व देशभक्ति के जज्बे को जमकर सराहा। उन्होंने कहा कि कारगिल युद्ध एक ऐसा युद्ध था जिसे जीतना देश की सेना व जवानों के लिए कड़ी चुनौती था। लेकिन हमारे सैनिक जवानों ने हिम्मत नहीं हारी और आखिरकार दुश्मन का पूरी तरह सफ ाया करके टाइगर हिल पर भारतीय तिरंगा फहराया। वहीं क्षेत्र के गांव कौलपुर के कारगिल शहीद हवलदार कुलबीर सिंह पुत्र स्व. तारा सिंह यूनिट आठ सिख रेजिमैंट घातक पलाटून के समारक स्थल पर भी परिजनों ने उनको भावभीनी श्रद्धांजलि देकर शहादत को नमन किया। शहीद गुरदीप सिंह सोनी व शहीद कुलबीर सिंह ने एक ही दिन दिनांक छह जुलाई को कारगिल वीरगति प्राप्त की थी।

 

विजय दिवस पर शहीद हवलदार कुलबीर सिंह के गांव कौलपुर स्थित समारक स्थल पर श्रद्धांजलि देने की रस्म में उनकी माता जागीर कौर, पत्नी सुरिंद्र कौर, भाई बलबीर सिंह, कपतान सिंह, मस्तान सिंह, बहन जोगिंद्र कौर, स्वर्न कौर, दोस्त मंजीत सिंह, गुरबख्श सिंह अन्य ने उनको श्रद्धांजलि दी। गांव नंदपुर के शहीद रतन चंद यूनिट 12 जैकलाइ को भी विजय दिवस पर परिजनों व गणमान्य लोगों ने श्रद्धांजलि देकर उनकी शहादत को नमन किया गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Recommended News