हॉट स्पॉट में कैद लोगों की बढ़ रही छटपटाहट, घरों में राशन-बिजली नहीं और गली के बाहर लगी कांटेदार तार

2020-08-05T15:26:07.933

साम्बा (संजीव): लगभग 21 दिन पूर्व गली में एक युवक कोरोना संक्रमित पाया गया था, जिसके बाद से ही विजयपुर की वार्ड-10 की इस गली के 30 से अधिक लोग घरों में कैद हो कर रह गए हैं। संक्रमित पाया गया युवक 31 जुलाई को स्वस्थ होकर घर वापस आ चुका है, पॉजिटिव पाए गए उसके सभी परिजन उससे भी पहले रिकवर होकर घर आ चुके हैं, लेकिन इसके बावजूद गली के लगभग 3 दर्जन लोग घरों में कैद रहने को मजबूर हैं। प्रशासन का कहना है कि 28 दिन की कवारंटीन अवधि पूरी होने पर ही इन्हें बाहर आने दिया जाएगा लेकिन घरों में कैद बच्चों-महिलाओं आदि के सब्र का बांध टूटता जा रहा है। 

PunjabKesari

    हॉट स्पॉट में कैद लोगों में छोटे बच्चे भी शामिल हैं। इन लोगों का कहना है कि इस भीषण गर्मी में बिजली के घंटोंं लंबे कट लग रहे हैं, जिससे छोटे-बड़े सब परेशान हैं। बच्चों को समझाना और भी मुश्किल हो रहा है क्योंकि बाहर खेलने नहीं जा पा रहे हैं। गर्मी में बिजली बंद होने पर छटपटाहट में यह लोग बाहर आते हैं लेकिन तार देख कर वापस लौट जाते हंै। गली के लोग स्थानीय पार्षद से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों तक गुहार लगा चुके हैं कि सभी संक्रमितों के रिकवर होने के बाद तो उन्हें राहत दी जाए। 


वहीं गली के एक मकान में किराए पर रह रहे रोहित का कहना है कि घर में जरूरी सामान तक नहीं है। अपनी माँ के साथ एक किराए के कमरे में रह रहे इस युवक के अनुसा लॉकडाउन के चलते वह पहले ही 3 माह से फैक्टरी में काम पर नहीं जा पाया, दूसरे कमरे का भी 3 माह का किराया देना है लेकिन हालत यह है कि एक ही कमरे में सोने व खाना पकाने वाला यह दो सदस्यों का परिवार दाने-दाने का मोहताज हो रहा है। इन लोगों का कहना है कि अधिकारी सुन नहीं रहे हैं, ऐसे में घरों में कैद रहना इनकी मजबूरी बन गई है। 
 


Monika Jamwal

Related News