‘एयर बबल'' व्यवस्था के तहत 28 अक्तूबर से बांग्लादेश-भारत के बीच फिर शुरू होंगी उड़ानें

2020-10-18T12:44:52.17

नेशनल डेस्कः बांग्लादेश और भारत के बीच 28 अक्तूबर से ‘एयर बबल' वयवस्था के तहत विमान सेवा शुरू हो जाएगी।  बांग्लादेश के विदेश मंत्रालय ने शनिवार को इसकी जानकारी दी। विदेश मंत्रालय ने बताया कि बांग्लादेश की तीन एयरलाइंस शुरू में एक हफ्ते में 28 उड़ानों का संचालन करेंगी, जबकि पांच भारतीय Indian carriers हफ्ते में ही उड़ान भरेंगे। कोरोना के चलते भारत-बंगलादेश के बीच करीब आठ महीनों से आवागमन बाधित रहा है। बंगला विदेश मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि द्विपक्षीय एयर बबल पैक्ट के तहत, दोनों देशों की एयरलाइंस कुछ प्रतिबंधों के साथ अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें संचालित कर सकती हैं।

 

बता दें कि जुलाई के बाद से, भारत ने अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी सहित कई देशों के साथ ऐसी एयर बबल व्यवस्था पर करार किया था। ऐसे में बांग्लादेश ने भी फिर से उड़ानें शुरू करने का फैसला लिया है। जनवरी 2018 से मार्च 2019 तक लगभग 28,76,000 बांग्लादेशियों ने भारत में सफर किया और इनमें से लगभग 10 प्रतिशत भारत चिकित्‍सीय इलाज के लिए आए।

 

इन मार्गों से संचालित होंगी फ्लाइट
बंगलादेश के नागरिक उड्डयन और पर्यटन मंत्रालय ने बताया कि फिलहाल शुरुआत मेे तीन बांग्लादेशी एयरलाइंस- बिमान बांग्लादेशी एयरलाइंस, यूएस-बांग्ला एयरलाइंस और नोवो एयर एक सप्ताह में 28 उड़ानों का संचालन करेंगी और पांच भारतीय एयरलाइंस- एयर इंडिया, इंडिगो, स्पाइसजेट, विस्तारा और गोएयर सप्ताह में 28 उड़ानें चलाई जाएंगी। तीन बांग्लादेश के विमान, बिमान ढाका-दिल्ली और ढाका-कोलकाता मार्गों पर उड़ान भरेंगे। वहीं ढाका-चेन्नई पर यूएस-बांग्ला एयरलाइंस और ढाका-कोलकाता मार्ग पर नोवो एयर उड़ानें संचालित करेगी।

 

वहीं पांच भारतीय एयरलाइंस ढाका-दिल्ली, ढाका-कोलकाता, ढाका-चेन्नई और ढाका-मुंबई मार्गों पर फ्लाइट संचालित करेगी। वहीं खबर के अनुसार, बांग्लादेश नागर विमानन प्राधिकरण के अध्यक्ष एयर वाईस मार्शल एम मफीदुर रहमान ने कहा कि शुरुआत में दोनों देशों के लगभग 5000 यात्री यात्रा कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि तीसरे देश की यात्रा के लिए कोई ‘ट्रांजिट' सुविधा उपलब्ध नहीं होगी और यात्रियों को विमान में सवार होने से पहले कोविड-19 जांच करानी होगी। 


Seema Sharma

Related News