ट्रंप के आदेश से बचने के लिए टिकटॉक का वैश्विक मुख्यालय अमेरिका में ही रखा जाएगा

2020-09-16T23:05:06.333

वाशिंगटनः चीन की बाइटडांस ने अपने लोकप्रिय शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म टिकटॉक का वैश्विक मुख्यालय अमेरिका में स्थापित करने का निर्णय किया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के इस पर रोक लगाने के आदेश से बचने के लिए कंपनी ने यह रास्ता निकाला है।
PunjabKesari
चीन के सरकारी सीजीटीएन टीवी ने बुधवार को एक रपट में कहा कि बाइटडांस की अमेरिकी अधिकारियों के सामने पेश योजना के मुताबिक टिकटॉक अमेरिका में मुख्यालय वाली नई कंपनी में बहुलांश हिस्सेदार बनी रहेगी। वहीं, प्रौद्योगिकी कंपनी ओरेकल इसमें अल्पांश हिस्सेदार होगी। 
PunjabKesari
रपट में कहा गया है कि कंपनी में वॉलमार्ट अन्य अल्पांश हिस्सेदार होगी। वैश्विक खुदरा कंपनी वॉलमार्ट ने माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर टिकटॉक में हिस्सेदारी खरीदने की पेशकश की थी। इस घटनाक्रम की जानकारी रखने वाले व्यक्तियों ने कहा कि योजना की विस्तृत रूपरेखा में बदलाव भी हो सकता है। स्वतंत्र तीसरे पक्ष के लोग नयी कंपनी के निदेशक होंगे।
PunjabKesari
वहीं, बाइटडांस के पास टिकटॉक और उसकी मूल एल्गोरिदम का नियंत्रण बना रहेगा। रपट के मुताबिक अमेरिकी उपयोगकर्ताओं की डेटा सुरक्षा को लेकर ट्रंप सरकार की चिंताओं को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने यह डेटा अमेरिका में ही रखने का निर्णय किया है और ओरेकल इसके लिए डेटा सेवाप्रदाता का काम करेगी।

ट्रंप सरकार ने टिकटॉक को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा करार दिया है। ट्रंप ने छह अगस्त को एक कार्यकारी आदेश जारी कर टिकटॉक के सामने अपने अमेरिकी कारोबार को 20 सितंबर तक बंद करने या किसी अमेरिकी कंपनी को बेचने की समयसीमा रखी थी। भारत ने भी राष्ट्रीय सुरक्षा और संप्रभुता के लिए खतरा बताते हुए टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप पर जून में रोक लगा दी थी. बाद में 118 चीनी ऐप पर भी रोक लगा दी गई।


Pardeep

Recommended News