See More

UAE में कोरोना इलाज का क्लिनिकल टेस्ट सफल, ट्रायल का हिस्सा बने सभी मरीज हुए ठीक

2020-05-06T13:52:54.743

दुबईः दुनियाभर के देश कोरोना वायरस से छुटकारा पाने के लिए इसका ईलाज ढूंढने में जुटे हैं। कई देशों में संभावित दवाइयों के क्लिनिकल ट्रायल भी शुरू हो चुके हैं। इसराइल के बाद अब संयुक्त अरब अमीरत (UAE) ने कोरोना वायरस के इलाज के लिए वैक्सीन ट्रायल का दावा किया है। संयुक्त अरब अमीरात के एक संस्थान ने कोरोना महामारी के इन्फेक्शन के इलाज के लिए 'गेम-चेंजर' तकनीक निकाली है।

PunjabKesari

यहां स्टेम सेल्स की मदद से मरीजों का इलाज किया गया है और दावा है कि सभी मरीज ठीक भी हो चुके हैं। देश में कोरोना को फैलने से रोकने और इलाज के लिए करीब 60 प्रॉजेक्ट चल रहे हैं। खून से लिए गए स्टेम सेल्स देश की विदेश मंत्री हिंद अल ओतैबा ने ट्वीट कर इस प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने बताया है कि अबु धाबी स्टेम सेल्स सेंटर ने COVID-19 के इन्फेक्शन के इलाज का तरीका निकाला है। उन्होंने बताया है कि इसके तहत मरीज के खून से स्टेम सेल्स निकालकर फेफड़ों में डाले जाएंगे और फेफड़ों के सेल्स को रीजनरेट किया जाएगा।

PunjabKesari

इसके साथ ही इम्यूनिटी सेल्स को ओवररियेक्ट करने से रोका जाएगा। ओतैबा के मुताबिक इस ट्रीटमेंट के पहले चरण का क्लिनिकल ट्रायल सफलता से हो गया है। 73 लोगों पर इसका इस्तेमाल किया गया और सभी बिना किसी साइड इफेक्ट के ठीक हो रहे हैं। जिन लोगों में यह ट्रीटमेंट किया गया वे पहले काफी बीमार थे और उनमें कई ICU में भर्ती किए गए थे। उन्होंने बताया है कि इस इलाज को पुख्ता साबित करने के लिए और ट्रायल किए जा रहे हैं और आने वाले हफ्तों में साफ-साफ नतीजे देखने को मिलेंगे।

PunjabKesari

 


Tanuja

Related News