मर्दों को शिकार बनाने वाला 'ब्रिटेन का सबसे खतरनाक बलात्कारी', ऐेसे देता था वारदातों को अंजाम

punjabkesari.in Wednesday, Jan 08, 2020 - 07:39 AM (IST)

लंदनः ब्रिटेन में 159 यौन अपराधों के मुजरिम की पहचान सार्वजनिक कर दी गई है। रिनहार्ड नाम के इस व्यक्ति के नाम 159 यौन अपराधों में 136 बलात्कार के अपराध शामिल थे। अदालत के अनुसार रिनहार्ड 48 मर्दों को बहला फुसला कर अपने फ्लैट में ले गया था और फिर उनके साथ बलात्कार किया था। पुलिस के अनुसार इस बात के सुबूत हैं कि रिनहार्ड ने 190 लोगों को निशाना बनाया था।
PunjabKesari
36 साल के रिनहार्ड पहले ही दो मामलों में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं। ब्रिटेन में रह रहे इंडोनेशिया के नागरिक रिनहार्ड सनागा को अदालत ने चार अलग-अलग मुक़दमों में 136 बलात्कार, आठ बलात्कारों की कोशिश और 14 अन्य यौन अपराधों का दोषी पाया है। जांच में ये भी पता चला है कि सनागा आम तौर पर उन पुरुषों को अपना निशाना बनाता था जो समलैंगिंक नहीं थे। पुलिस का कहना है कि ब्रिटेन के पूरे न्यायिक इतिहास में रिनहार्ड सनागा सबसे 'ख़तरनाक बलात्कारी' है और आशंका है कि वो पूरी दुनिया में भी 'सबसे ख़तरनाक बलात्कारी' हो।

जज ने बताया 'शैतान जैसा यौन शिकारी'
सोमवार को अदालत में सुनवाई के दौरान जस्टिस सुजैन गोडार्ड ने कहा, ''रिनहार्ड सनागा एक शैतान माफ़िक़ यौन शिकारी है जिसे कभी भी रिहा करना खतरनाक होगा।'' अदालत ने इस मामले की रिपोर्टिंग पर लगी पाबंदी भी हटा ली जिसके बाद सनागा की पहचान सार्वजनिक कर दी गई।

सनागा नाइट क्लबों और बार से बाहर निकलने वाले मर्दों का इंतज़ार करता था और फिर उन्हें अपने फ़्लैट में ले जाता था। वो अपने शिकार को शराब या उनके लिए टैक्सी मंगवाने की पेशकश करता था। अपने शिकार पुरुषों का बलात्कार से पहले उन्हें बेहोशी की दवा दे देता था। जागने के बाद पीड़ित लोगों में से ज्यादातर को पता ही नहीं होता था कि उनके साथ क्या हुआ है। गिरफ्तारी से पहले वो यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स से पीएचडी कर रहा था और कई बरसों से वो मर्दों का बलात्कार कर रहा था।

मानसिक तकलीफ़ों से जूझ रहे हैं पीड़ित 
सनागा के शिकार कई पीड़ित पुरुषों की मैनचेस्टर स्थित 'सेंट मैरी सेक्शुअल असॉल्ट रेफरल सेंटर' में काउंसलिंग की जा रही है। सेंटर में काम करने वाली लिज़ा वॉटर्स ने बताया कि कई पुरुषों के लिए अब भी इस सदमे से निकलना बेहद मुश्किल हो रहा है। कई पीड़ित मानसिक तकलीफ़ और 'ख़ुदकुशी के ख़याल' से जूझ रहे हैं। वहीं, जांचकर्ताओं का कहना है कि उन्होंने सनागा के शिकार हुए 70 अन्य पीड़ितों की पहचान करने में सफल नहीं हो पाए हैं और वो पीड़ितों से निडर होकर सामने आने की अपील कर रहे हैं। 

ड्रग्स देकर और बेहोश करके बलात्कार
सनागा को जून 2017 में गिरफ्तार किया गया था जब उसका एक शिकार बनने वाला व्यक्ति बलात्कार की कोशिश के दौरान होश में आ गया और उसने पुलिस को बुला लिया। जब पुलिस ने सनागा का मोबाइल फोन अपने क़ब्ज़े में लिया तो उन्हें सैकड़ों घंटों की फुटेज मिली जो सनागा ने बलात्कार के दौरान बनाई थी। यही ब्रिटेन के इतिहास में बलात्कार की सबसे बड़ी जांच का कारण बना। पुलिस ने बताया है कि सनागा पीड़ितों को बेहोश करने के लिए कुछ बेहद ख़तरनाक और प्रतिबंधित ड्रग्स का इस्तेमाल करता था। ब्रिटेन की ग़हमंत्री प्रीति पटेल ने कहा है कि वो ऐसी ड्रग्स के इस्तेमाल की बात सुनकर 'बेहद चिंतित' हैं।

वहीं, सनागा ने खुद को बेग़ुनाह बताया है और कहा है कि उन्होंने सभी पुरुषों से 'उनकी सहमति से सम्बन्ध बनाए'। सनागा ने अदालत में अपने बचाव में कहा कि सभी पुरुषों ने अपनी वीडियो बनाए जाने पर भी सहमति जताई थी। जज ने उसकी इस दलील को 'बेसिरपैर' का बताया है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Pardeep

Related News

Recommended News