क्यों होती है शुभ कार्य से पूर्व गणेश पूजा ?

2020-03-04T10:15:12.9

Follow us on Instagram

भगवान शिव के वरदान के कारण ही प्रत्येक शुभ कार्य से पूर्व भगवान श्री गणपति वंदना करने की परंपरा है। भगवान श्री गणेश के जीवन से जुड़े हुए कई आख्यान विभिन्न धार्मिक ग्रंथों एवं पुराणों में मिलते हैं, परंतु शिव पुराण के अनुसार एक बार माता पार्वती कैलाश पर्वत पर स्नान करने के लिए गईं,

PunjabKesari Why is Ganesh worship done before auspicious work

बाद में भगवान शिव वहां आए तो उनके पुत्र गणेश ने भगवान शिव को वहां आने से रोका, क्योंकि भगवान शिव को पता नहीं था कि जो बालक उन्हें रोक रहा है, वह उनका ही पुत्र गणेश है। भगवान शिव को क्रोध आ गया और उन्होंने उस बालक का सिर काट दिया। माता पार्वती ने जब अपने पुत्र का सिर कटा देखा तो वह रोने लगीं।

PunjabKesari Why is Ganesh worship done before auspicious work

माता पार्वती ने कहा कि उन्हें अपना पुत्र चाहिए तो भगवान शिव ने अपने गण चारों दिशाओं में भेजे तथा कहा कि जिस प्राणी को वह सबसे पहले पाएं उसका शीश काट कर लाएं। उत्तर दिशा की ओर गए गण एक हाथी का सिर काट कर लाए और भगवान शिव ने गणेश के शरीर के साथ उस शीश को लगा दिया।

PunjabKesari Why is Ganesh worship done before auspicious work

माता पार्वती हाथी के सिर वाले पुत्र को पाकर भी जब खुश न हुईं तो भगवान शिव ने माता पार्वती को वरदान दिया कि प्रत्येक शुभ कार्य से पूर्व लोग श्री गणेश का नाम लेंगे तथा उनका पूजन करके जो काम शुरु होगा, वह सफल होगा। 


Niyati Bhandari

Related News