झाड़ू लगाते समय मां लक्ष्मी को न करें नाराज

2021-03-01T23:12:08.047

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

हिन्दू धर्म की मान्यताओं के मुताबिक झाड़ू में देवी लक्ष्मी का वास होता है इसलिए जिस भी घर में लोग झाड़ू का अपमान करते हैं वहां कभी भी धन लाभ नहीं होता। झाड़ू घर के कचरे को बाहर करता है। इतना ही नहीं, कचरे को दरिद्रता का प्रतीक भी माना जाता है। कहा यह भी जाता है कि जिस घर में साफ-सफाई रहती है वहां पर धन एवं सुख-शांति हमेशा बनी रहती है क्योंकि गंदे घर के अंदर दरिद्रता का वास होता है अर्थात धन की देवी मां लक्ष्मी उस घर में कभी वास नहीं करती। 

PunjabKesari Do not annoy maa Lakshmi while sweeping

इसके अलावा वास्तु शास्त्र में भी झाड़ू से जुड़ी कुछ ऐसी बातें बताई गई हैं जिनका पालन करने से घर में हमेशा मां लक्ष्मी का वास होता है। तो चलिए जानते हैं कौन-सी हैं वे बातें जिनका पालन आप और हम सभी को करना चाहिए। यदि कभी गलती से झाड़ू को पैर लग जाए तो ऐसे में फौरन मां लक्ष्मी से क्षमा मांग लेनी चाहिए। इसके अलावा जब आप घर में झाड़ू का उपयोग न करें तो उसे नजरों के सामने से हटाकर रखना चाहिए। भूल से भी घर में सूर्यास्त के बाद झाड़ू नहीं लगाना चाहिए क्योंकि कहा जाता है कि शाम के वक्त झाड़ू लगाने से घर में आर्थिक तंगी पैदा हो सकती है।

PunjabKesari Do not annoy maa Lakshmi while sweeping

इसके अलावा झाड़ू को कभी खड़ा करके भी नहीं रखें, मान्यता है कि झाड़ू को खड़ा करके रखने से घर में क्लेश उत्पन्न होता है। ज्यादा पुराने झाड़ू को घर में नहीं रखना चाहिए। न ही झाड़ू को बाहर फैंकना चाहिए और न ही जलाना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से घर में दरिद्रता आनी शुरू हो जाती है। जानवर को कभी भी झाड़ू से मारकर नहीं भगाना चाहिए।

इसके अलावा परिवार का कोई सदस्य अगर घर से बाहर किसी काम के लिए जाता है तो उसके जाने के बाद घर में तुरन्त झाड़ू नहीं लगाएं। 

PunjabKesari Do not annoy maa Lakshmi while sweeping

पूजा घर के ईशान कोण में झाड़ू और कूड़ेदान कभी नहीं रखना चाहिए। कहा जाता है कि ऐसा करने से घर में नकारात्मक ऊर्जा बढ़ जाती है। यदि आप झाड़ू बदलने की सोच रहे हैं तो ऐसे में आप शनिवार के दिन ही झाड़ू बदलें। मां लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहने के लिए घर के मुख्य दरवाजे के पीछे एक छोटा झाड़ू टांग कर रखना शुभ माना जाता है।

 
         


Content Writer

Niyati Bhandari

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News