गौसेवा धाम में भागवत महोत्सव आरंभ, धूमधाम से मनाई जाएगी गोपाष्टमी

2020-11-19T14:21:36.507

 शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Bhagwat katha by devi chitralekha: प्रसिद्ध कथावाचक देवी चित्रलेखा जी के सानिध्य में कोटवन-करमन बॉर्डर पर स्थित गौसेवा धाम हॉस्पीटल में बीमार गौवंश के सेवार्थ सप्तदिवसीय गोपाष्टमी भागवत महोत्सव का विगत मगंलवार से श्रीगणेश हुआ।

PunjabKesari chiterlekha
महोत्सव के प्रथम दिवस में देवी जी ने भागवत कथा के महात्मय का वर्णन किया। अस्पताल के मीडिया प्रभारी राहुल तिवारी ने जानकारी देते  हुए  बताया कि 17 से 23 नवंबर तक चलने वाले इस कथा महोत्सव के मध्य में ही 22 नवंबर को गोपाष्टमी का महापर्व बड़े ही धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जायेगा। गोपाष्टमी के दिन ही प्रथम बार भगवान श्री कृष्ण ने गौ चारण आरंभ किया था।

PunjabKesari chiterlekha
जैसे राधाष्टमी पर बरसाना के मंदिरों में भव्य उत्सव मनाया जाता है, ठीक वैसा ही गोपाष्टमी का पावन पर्व  गौ सेवा धाम हॉस्पीटल में भी धूम धाम से मनाया जाता है। गौसेवा धाम हॉस्पीटल में  बीमार व असहाय गौवंश को आश्रय देकर उनका उपचार व उचित देखभाल की जाती है तथा यह हॉस्पीटल गौ माता की सेवा के लिये पूर्णतः समर्पित है।

PunjabKesari chiterlekha
हर वर्ष की भांति इस बार भी गोपाष्टमी के पर्व पर होने वाले गाै महाभोज में विशेष रूप से गौ माता की आरती तथा यहां भर्ती बीमार गौवशं के लिये मीठा दलिया, हरा चारा, गुड़ आदि का भंडारा अयोजित किया जायेगा। सम्पूर्ण कथा में कोरोना प्रोटोकोल का विशेष रूप से ध्यान रखा गया। सीमित मात्रा में श्रद्धालु उचित शारीरिक दूरी के साथ मास्क पहने हुये नजर आये।

PunjabKesari chiterlekha
ज्ञात रहे कि गौसेवा धाम हॉस्पीटल क्षेत्र में गौसेवा में अग्रणी भूमिका निभाता रहा है। यहां पर लाचार, अनाथ, असहाय तथा दुर्घटनाग्रस्त गौवंश के साथ अन्य जीव जंतु व पशु पक्षियों का का निःशुल्क उपचार किया जाता है।


Niyati Bhandari

Recommended News