भारत की कोविड से लड़ाई में मदद के लिए आगे आई सैमसंग, देगी 50 लाख डॉलर

2021-05-04T17:33:14.997

बिजनेस डेस्कः इलेक्ट्रॉनिक उपभोक्ता उपकरण बनाने वाली कोरियाई कंपनी सैमसंग ने कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के खिलाफ भारत की लड़ाई में योगदान देने के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकारों को 50 लाख डॉलर अर्थात 37 करोड़ रुपए की सहायता एवं अस्पतालों के लिए आवश्यक चिकित्सा उपकरणों के साथ हेल्थकेयर सेक्टर को समर्थन देने की घोषणा की है। 

यह भी पढ़ें- चुनाव खत्म होते ही पेट्रोल-डीजल की कीमत में आया उछाल, जानिए आपके शहर में कितना हुआ महंगा

कंपनी ने आज कहा कि यह निर्णय भारत में विभिन्न हितधारकों के साथ विचार-विमर्श करने और स्थानीय प्रशासन की तत्काल आवश्यकता का आकलन करने के बाद लिया गया है। सैमसंग केंद्र सरकार के साथ ही उत्तर प्रदेश एवं तमिलनाडु को 30 लाख डॉलर का दान देगी। इसके अलावा, हेल्थकेयर सिस्टम की मदद के लिए सैमसंग 20 लाख डॉलर की चिकित्सा सामग्री उपलब्ध कराएगी, जिसमें 100 ऑक्सीजन कंसनट्रेटर, 3,000 ऑक्सीजन सिलेंडर और दस लाख एलडीसी सिरिंज शामिल हैं। ये सामग्री उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु को उपलब्ध कराई जाएगी। 

यह भी पढ़ें- ब्रिटेन में 24 करोड़ पाउंड का निवेश करेगी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया  

एलडीएस या लो डेड स्पेस सिरिंज इंजेक्शन के बाद डिवाइस में बचने वाली दवा की मात्रा को न्यूनतम बनाती है, जिससे वैक्सीन का अधिकतम उपयोग सुनिश्चित होता है। मौजूदा सिरिंज में उपयोग के बाद बहुत अधिक मात्रा में दवा रह जाती है और बर्बाद होती है। नई टेक्नोलॉजी ने 20 प्रतिशत तक अधिक दक्षता का प्रदर्शन किया है। यदि मौजूदा सिरिंज से 10 लाख खुराक दिए जाते हैं, वहीं एलडीएस सिरिंज वैक्सीन की समान मात्रा के साथ 12 लाख खुराक दे सकती है। सैमसंग ने इन सिरिंज के विनिर्माताओं को उत्पादन बढ़ाने के लिए मदद प्रदान की है। अपनी नागरिक पहल के हिस्से के रूप में, सैमसंग भारत में अपने 50,000 से अधिक पात्र कर्मचारियों और लाभार्थियों को टीकाकरण खर्च को वहन करेगी। इसमें सभी सैमसंग एक्सपीरियंस कंसल्टैंट्स, जो पूरे देश में इलेक्ट्रॉनिस रिटेल स्टोर्स पर काम करते हैं, शामिल होंगे। 

यह भी पढ़ें- कोरोना का असरः भारत से यात्रा को लेकर अमेरिकी प्रतिबंध लागू, सिर्फ इनको मिलेगी छूट


Content Writer

jyoti choudhary

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static