NPS के तहत मिलेगा मिनिमम एश्योर्ड रिटर्न, 30 सितंबर से हो सकती है शुरुआत

punjabkesari.in Saturday, Aug 06, 2022 - 01:36 PM (IST)

बेंगलुरु: पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) के तहत गारंटीड पेंशन प्रोग्राम पेश करने की तैयारी में है। अथॉरिटी इसे 30 सितंबर से शुरू कर सकती है। पीएफआरडीए के चेयरपर्सन सुप्रतिम बंद्योपाध्याय ने शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि न्यूनतम सुनिश्चित रिटर्न योजना पर काम चल रहा है। संभावित रूप से हम इसे 30 सितंबर से शुरू कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण हमेशा रुपए में गिरावट और मुद्रास्फीति से अवगत रहा है और इसके अनुसार निवेशकों को मुद्रास्फीति से सुरक्षित रिटर्न दिया है।

बंद्योपाध्याय ने कहा, '13 साल की अवधि में हमने 10.27 प्रतिशत की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दी है। हमने हमेशा निवेशकों को मुद्रास्फीति के लिहाज से संरक्षित रिटर्न दिया है।' पीएफआरडीए के अध्यक्ष ने कहा कि पेंशन परिसंपत्तियों का आकार 35 लाख करोड़ रुपए है, जिसमें से 22 फीसदी यानी कुल 7.72 लाख करोड़ रुपये एनपीएस के पास है जबकि ईपीएफओ 40 फीसदी हिस्से का प्रबंधन करता है।

इस साल 20 लाख पहुंच जाएंगे सब्सक्राइबर

बंद्योपाध्याय ने कहा कि सब्सक्राइबर इनरोलमेंट में समय के साथ काफी तेजी आई है और यह संख्या 3.41 लाख से बढ़कर इस साल 9.76 लाख पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि इस वित्त वर्ष में यह संख्या 20 लाख पहुंचने का अनुमान है। इसमें जुड़ने की अधिकतम उम्र बढ़ाकर 70 साल कर दी गई है और इससे निकलने की उम्र भी बढ़ाकर 75 साल कर दी गई है। 60 साल या रिटायरमेंट की उम्र होते ही एनपीएस अकाउंट ऑटो कंटीन्यूड हो जाएगा। एन्युटी परचेज को 75 साल की उम्र तक डेफर किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पांच साल रहने के बाद सब्सक्राइबर इससे बाहर निकलने का विकल्प चुन सकते हैं। साथ ही एक वित्त वर्ष में चार बार निवेश के विकल्पों में बदलाव किया जा सकता है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Related News

Recommended News