ऑस्ट्रेलिया सरकार पर गहराए संकट के बादल

Sunday, August 20, 2017 3:35 PM
ऑस्ट्रेलिया सरकार पर गहराए संकट के बादल

मेलबर्नः ऑस्ट्रेलिया में दोहरी नागरिकता वाले सांसदों का एक और मामला सामने आने के बाद सरकार पर संकट के बादल गहरा गए हैं। इस मामले को भी जांच के लिए उच्च न्यायालय भेज दिया गया है। शनिवार शाम सीनेटर निक शिनोफोन ने अपने पास ब्रिटेन की भी नागरिकता होने की घोषणा की थी। इससे प्रधानमंत्री मैलकम टर्नबुल की सरकार पर संकट गहरा गया है।

सरकार की परेशानी पिछले हफ्ते ही तब बढ़नी शुरू हो गई थी जब उप प्रधानमंत्री बार्नाबाइ ज्वॉइस ने कहा कि वह संसद की सदस्यता के लिए अयोग्य हो सकते हैं क्योंकि उनके पास न्यूजीलैंड की भी नागरिकता है। फिलहाल ज्वॉइस भी इस मामले में न्यायालय के फैसले का इंतजार कर रहे हैं।

ऑस्ट्रेलिया के 116 साल पुराने कानून के मुताबिक निर्वाचित सांसद के पास केवल आस्ट्रेलिया की नागरिकता होनी चाहिए। इस कानून के तहत ही शिनोफोन समेत तीन सरकारी सदस्यों और तीन ग्रीन पार्टी के सदस्य दोहरी नागरिकता के दोषी पाए गए हैं। शिनोफोन को अपनी मां से ग्रीसकी भी नागरिकता मिली थी जिसका उन्होंने काफी पहले त्याग कर दिया था।




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !