सीयूईटी सही दिशा में उठाया गया कदम, किसी चुनौती का जल्द समाधान किया जायेगा: शिक्षा मंत्री

punjabkesari.in Friday, Jul 15, 2022 - 08:08 PM (IST)

एजुकेशन डेस्क: केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने शुक्रवार को कहा कि साझा विश्वविद्याल प्रवेश परीक्षा (सीयूईटी) सही दिशा में उठाया गया कदम है और परीक्षा को लेकर बाकी बची किसी भी चुनौती का जल्द से जल्द समाधान किया जाएगा।

प्रधान की यह टिप्पणी सीयूईटी परीक्षा के प्रथम संस्करण के पहले दिन सामने आयी है। भारत की इस दूसरी सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षा को लेकर कई तरह की शिकायतें भी सामने आई हैं जिसमें अंतिम समय में परीक्षा केंद्र बदलना, लम्बा प्रश्नपत्र, आवाजाही से जुड़ा विषय शामिल है।

शिक्षा मंत्री ने कहा, ‘‘सीयूईटी गुणवत्ता और मानकीकरण की दिशा में एक कदम है, परीक्षा में बाकी बची किसी भी चुनौती का जल्द से जल्द समाधान किया जाएगा।’’ परीक्षा केंद्र में बदलाव को लेकर कई उम्मीदवार परीक्षा में उपस्थित नहीं हो सके। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने कहा कि उन्हें अगले चरण में परीक्षा देने का मौका मिलेगा जो अगस्त में होगी।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने मार्च में घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिला लेने के लिये सीयूईटी के अंक जरूरी होंगे, 12वीं कक्षा के अंक नहीं। केंद्रीय विश्वविद्यालय न्यूनतम पात्रता अर्हता तय कर सकते हैं। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया था कि राज्य बोर्ड के छात्रों को नयी व्यवस्था से कोई नुकसान नहीं होगा। सीयूईटी के लिए लगभग 14.9 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News