एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक के विलय के प्रस्ताव को शेयर बाजारों की हरी झंडी

punjabkesari.in Sunday, Jul 03, 2022 - 08:08 PM (IST)

नयी दिल्ली, तीन जुलाई (भाषा) एचडीएफसी के एचडीएफसी बैंक के साथ विलय के प्रस्ताव को शेयर बाजारों की मंजूरी मिल गई है। यह देश के कॉरपोरेट इतिहास में सबसे बड़ा लेनदेन है।

एचडीएफसी और एचडीएफसी बैंक, दोनों को दोनों स्टॉक बाजारों से अनापत्ति मिल गई है।

एचडीएफसी बैंक ने बताया कि उसे बीएसई लिमिटेड से ‘‘किसी भी प्रतिकूल टिप्पणी के बिना’’ अवलोकन पत्र और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड से ‘‘अनापत्ति’’ के साथ अवलोकन पत्र मिला है।

एचडीएफसी बैंक ने कहा, ‘‘यह योजना अन्य बातों के साथ ही भारतीय रिजर्व बैंक, भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग, राष्ट्रीय कंपनी कानून न्यायाधिकरण और योजना में शामिल कंपनियों के संबंधित शेयरधारकों और लेनदारों से मंजूरी सहित विभिन्न वैधानिक और नियामक अनुमोदनों के अधीन है।’’
इससे पहले चार अप्रैल को देश की सबसे बड़ी आवास वित्त कंपनी एचडीएफसी लिमिटेड का निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक एचडीएफसी बैंक में विलय का फैसला लिया गया था। करीब 40 अरब डॉलर के इस अधिग्रहण सौदे से वित्तीय सेवा क्षेत्र की एक बड़ी कंपनी अस्तित्व में आएगी।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News