अगर समझते देश के मन की बात ऐसे ना होते हालात... राहुल गांधी की पीएम मोदी को नसीहत

2021-07-25T14:11:30.3

नेशनल डेस्क:  कांग्रेस नेता राहुल गांधी मोदी सरकार को घेरने का कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं।  इस बार उन्होंने  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन को बात को लेकर तंज कसते हुए कहा कि  अगर समझते देश के मन की बात, ऐसे ना होते टीकाकरण के हालात।

PunjabKesari

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात के ठीक बाद राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि अगर समझते देश के मन की बात ऐसे ना होते टीकाकरण के हालात। उन्होंने टीकाकरण की गति पर सरकार से सवाल पूछने के लिए ‘व्हेयर आर वैक्सीन’ हैशटैग का इस्तेमाल किया। राहुल गांधी ने कथित धीमी टीकाकरण दर और मीडिया खबरों का उल्लेख करते हुए एक वीडियो भी साझा किया। वीडियो में भारत के टीकाकरण संबंधी आंकड़ों पर प्रकाश डाला गया है जिसका उद्देश्य कोरोना वायरस की तीसरी लहर को रोकना और दिसंबर 2021 तक दोनों खुराक के साथ 60 प्रतिशत आबादी का टीकाकरण करने का लक्ष्य है।

PunjabKesari

आंकड़ों में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि प्रति दिन 93 लाख लोगों का टीकाकरण किए जाने की जरूरत है और पिछले सात दिनों में वास्तविक दर (हर रोज औसत टीकाकरण) प्रति दिन 36 लाख है। इस तरह पिछले सात दिनों में हर दिन 56 लाख टीकों का अंतर है। इसमें कहा गया है कि 24 जुलाई को (पिछले 24 घंटे में टीकाकरण) वास्तविक टीकाकरण 23 लाख लोगों का हुआ यानी 69 लाख का अंतर रहा। कांग्रेस धीमे टीकाकरण अभियान और टीका नीति को लेकर सरकार की आलोचना करती रही है।

PunjabKesari

प्रधानमंत्री ने कहा कि जनता से मिले सुझाव ही ‘मन की बात’ की असली ताकत हैं और ये सुझाव ही इस कार्यक्रम के माध्यम से भारत की विविधता को प्रकट करते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘जनता से मिले सुझाव भारतवासियों की सेवा और त्याग की खुशबू को चारों दिशाओं में फैलाते हैं और हमारे मेहनतकश युवाओं के नवाचारों से सबको प्रेरित करते हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Recommended News