स्कूल बंद, ट्रेनें कैंसिल... 2 दिन बाद आ रहा चक्रवाती तूफान, हो सकती है भारी बारिश, 2 राज्य अलर्ट पर

punjabkesari.in Saturday, Dec 02, 2023 - 11:00 PM (IST)

xचेन्नईः बंगाल की खाड़ी के ऊपर हवा का गहरा दबाव बन रहा है जिसके चक्रवाती तूफान में तब्दील होने के पूरे आसार है। जिससे उत्तरी तमिलनाडु के तटों पर भारी बारिश हो सकती है। चक्रवाती तूफान पांच दिसंबर की दोपहर को आंध्र प्रदेश के नेल्लोर और मछलीपट्टनम तटों को पार कर जाएगा। मौसम विज्ञान विभाग ( आईएमडी) ने शनिवार को यह जानकारी दी। 
PunjabKesari
आईएमडी ने बताया कि दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी पर हवा का गहरा दबाव बनने से यह पिछले छह घंटों के दौरान 17 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ गया है। विभाग ने कहा कि अब यह तूफान पुड्डुचेरी से लगभग 440 किमी पूर्व-दक्षिणपूर्व, चेन्नई से 420 किमी दक्षिणपूर्व, नेल्लोर से 540 किमी दक्षिणपूर्व, बापटला से 650 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व और मछलीपट्टनम से 650 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व में एक ही क्षेत्र पर केंद्रित है। इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और अगले 24 घंटों के दौरान बंगाल की दक्षिण-पश्चिम खाड़ी के ऊपर चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की आशंका है। 
PunjabKesari
आईएमडी ने बताया कि इसके बाद तूफान उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और चार दिसंबर की दोपहर तक दक्षिण आंध्र प्रदेश और आसपास के उत्तरी तमिलनाडु तटों से होते हुए पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी तक पहुंच जाएगा। फिर यह लगभग उत्तर की ओर लगभग समानांतर और दक्षिण आंध्र प्रदेश तट के करीब बढ़ेगा और पांच दिसंबर की दोपहर के दौरान चक्रवाती तूफान के रूप में नेल्लोर और मछलीपट्टनम के तट को पार कर जाएगा। जिसकी अधिकतम रफ्तार 80-90 किमी प्रति घंटे होगी और हवा की गति 100 किमी प्रति घंटा तक पहुंच सकती है। 
PunjabKesari
सभी शैक्षणिक संस्थानों में छुट्टी घोषित
मौसम कार्यालय ने चेन्नई सहित उत्तरी तमिलनाडु के तटों और तिरुवल्लुर, चेंगलपट्टू और कांचीपुरम के आसपास के जिलों में भारी बारिश होने का अनुमान जताया है, इसके मद्देनजर सोमवार को सभी शैक्षणिक संस्थानों में छुट्टी घोषित की गई है। तमिलनाडु सरकार ने आसन्न भारी चक्रवाती बारिश से निपटने के लिए अपनी पूरी तैयारी कर ली है। नवीनतम मौसम घटनाक्रम और आसन्न चक्रवाती तूफान के मद्देनजर स्थिति की समय-समय पर निगरानी कर रहे मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन ने 12 जिलों के अधिकारियों को निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाने सहित सभी एहतियाती कदम उठाने का निर्देश दिया है। 

उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि सभी राहत शिविरों में भोजन, सुरक्षित पेयजल और चिकित्सा सुविधाएं जैसी सभी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं, इसके अलावा अधिकारियों को चेन्नई शहर, उपनगरों और अन्य क्षेत्रों में जल जमाव वाले क्षेत्रों की पहचान करने और अतिरिक्त एहतियाती कदम उठाने का आदेश दिया। चक्रवाती तूफान के आने से पहले गुरुवार शाम को कई जगहों पर मूसलाधार बारिश भी हुई है। 

कल से तमिलनाडु और पुड्डुचेरी में बहुत भारी बारिश अनुमान
मौसम कार्यालय ने कल से दो दिनों के लिए उत्तरी तटीय तमिलनाडु और पुड्डुचेरी में बहुत भारी बारिश होने का अनुमान जताया है और कहा कि चार दिसंबर के बाद इसमें राहत मिलेगी। विभाग ने कहा कि बंगाल की दक्षिण-पश्चिमी खाड़ी के साथ-साथ उत्तरी तमिलनाडु-पुड्डुचेरी तटों पर तेज़ हवाएं चलेंगी। विभाग ने कहा कि उत्तरी तमिलनाडु और पुड्डुचेरी के तटों पर मौसम के खराब होने की स्थिति के मद्देनजर मछुआरों को आज से अगले तीन दिनों तक समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है।

तूफान को लेकर पूर्व मध्य रेल की 17 जोड़ी  ट्रेनें हुईं कैंसिल
आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्रों में चक्रवाती तूफान को लेकर 17 जोड़ी ट्रेनों का परिचालन रद्द किया गया है। पूर्व मध्य रेल के अलग अलग स्टेशनों से खुलने और गुजरने वाली ट्रेन इसमे शामिल है।पूर्व मध्य रेल के सीपीआरओ वीरेन्द्र कुमार ने बताया कि आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में  तूफान की वजह से रेल यात्रियों की सुरक्षा को लेकर पूर्व मध्य रेल की कई ट्रेनों को रद्द किया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Recommended News

Related News