राजस्थान: पानी वाला मटका छूने पर टीचर ने दलित बच्चे को बेरहमी से पीटा, हुई मौत...तनाव के बाद इंटरनेट बंद

punjabkesari.in Sunday, Aug 14, 2022 - 11:23 AM (IST)

नेशनल डेस्क: राजस्थान में जालोर जिले के एक प्राइवेट स्कूल में एक अध्यापक ने पानी वाला मटका छूने पर नौ वर्षीय एक दलित बच्चे को कथित रूप से पीटा, जिसके बाद शनिवार को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने 40 वर्षीय अध्यापक चैल सिंह को गिरफ्तार कर लिया है और उस पर हत्या और अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम की धाराओं के तहत आरोप लगाए हैं।

 

सुराणा गांव में एक निजी स्कूल के छात्र इंद्र मेघवाल की 20 जुलाई को पिटाई की गई थी और अहमदाबाद के एक अस्पताल में शनिवार को उसकी मौत हो गई। राज्य के शिक्षा विभाग ने मामले की जांच शुरू कर दी है। 

 

इंटरनेट 24 घंटे के लिए बंद

छात्र की मौत के बाद से लोगों में आक्रोश और तनाव का माहौल बना हुआ है। जालोर में इंटरनेट 24 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। पूरी घटना को लेकर भाजपा ने भी राज्य की अशोक गहलोत की सरकार पर निशाना साधा है। जालोर के पुलिस अधीक्षक हर्षवर्धन अग्रवाल ने बताया कि लड़के को बुरी तरह से पीटा गया था। उन्होंने कहा कि बताया गया है कि पीने के पानी का बर्तन छूने के कारण बच्चे की पिटाई की गई। उन्होंने कहा कि इस मामले में अभी जांच की जानी है। बच्चे के पिता ने कहा कि उसके बेटे के चेहरे और कान पर चोटें आई थीं और वह लगभग बेहोश हो गया था।

 

पिता के अनुसार, उसे जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे उदयपुर के एक अस्पताल में रेफर कर दिया गया। लड़के के पिता देवाराम मेघवाल ने कहा, ‘‘वह (बच्चा) लगभग एक सप्ताह तक उदयपुर के अस्पताल में भर्ती रहा, लेकिन कोई सुधार नहीं होने पर हम उसे अहमदाबाद ले गए। उसकी हालत में वहां भी सुधार नहीं हुआ और उसने शनिवार को दम तोड़ दिया।'' राज्य के शिक्षा विभाग ने दो अधिकारियों को मामले की जांच कर इसकी रिपोर्ट खंड शिक्षा अधिकारी को सौंपने का निर्देश दिया है। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News