पीएम मोदी ने रसोई गैस 15 रुपए बढ़ा कर देशवासियों को दिया नवरात्र का तोहफा: अल्का लाम्बा

10/07/2021 3:51:09 PM

नेशनल डेस्क: कांग्रेस ने कहा है कि आज देशभर में नवरात्र का महापर्व शुरू हो गया है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में बढ़ोतरी कर देशवासियों को अजीब तरह का तोहफा दिया है। कांग्रेस प्रवक्ता अल्का लाम्बा ने गुरुवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार महंगाई बढ़ाने का काम लगातार कर रही है और नवरात्र पर उसने रसोई गैस की कीमत 15 रुपए प्रति सिलेंडर बढ़ाकर देश के गरीबों के साथ असंवेदनशीलता का परिचय दिया है। उनका कहना था कि एलपीजी की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में घटी है लेकिन हमारे यहां बढ़ रही है।

उन्होंने कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि देश में सिलेंडर गैस का कीमत कई राज्यों में एक हजार रुपए से ज्यादा पड़ रहा है जबकि एलपीजी गैस सिलेंडर की दर अंतरराष्ट्रीय बाजार 664 रुपए 27 पैसे है। उन्होंने कहा कि 2013 में विश्व बाजार में सिलेंडर की कीमत 885 रुपए थी लेकिन तब देश में इस कदर एलजीपी सिलेंडर महंगा नहीं था। जब ज्यादा दाम थे तो देश में एलपीजी का सिलेंडर इतना ज्यादा नहीं था लेकिन आज कई राज्यों में यह एक हजार रुपए से ज्यादा पहुंच चुका है। कांग्रेस नेता ने कहा कि एलपीजी सब्सिडी भी लोगों को नहीं दी जा रही है। प्रधानमंत्री ने लोगों से जनधन खाते खुलवाए और प्रचारित किया कि सब्सिडी सीधे खातों में जाएगी लेकिन सरकार के पास सब्सिडी का पैसा ही नहीं है और लोगों के खातों में सब्सिडी का पैसा नहीं जा रहा है। उनका कहना था कि सरकार को बताना चाहिए एलपीजी सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी कहां जा रही है।


उन्होंने पेट्रोल-डीजल के बढ़े दाम का जिक्र करते हुए कहा कि 24 सितम्बर 2021 से अब तक नौ बार पेट्रोल के दाम बढ़ चुके हैं। सात अक्टूबर को दिल्ली से पेट्रोल 103 रुपए और डीजल के दाम 99 रुपये से ज्यादा पहुंच चुके हैं जबकि पेट्रोल की वास्तविक कीमत 41 रुपए पडती है। तेल की जो कीमत लोगों को देनी पड़ रही हे उसमें बाकी पैसा कर के रूप में दिया जा रहा है और इस कर के माध्यम से मोदी सरकार ने पिछले सात साल में 24 लाख करोड रुपए से ज्यादा पैसा पेट्रोल डीजल से कमाएं हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि 2013-14 में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल 140 डालर प्रति लीटर था जो आज गिरकर 70 डालर प्रति बैरल पर पहुंच गया है लेकिन सरकार पेट्रोलियम पदार्थों के दाम लगातार बढ़ा रही है। सरसों तेल के दाम आसमान छू रहे हैं लेकिन श्री मोदी लखनऊ में लोगों से दीवाली में करोड़ों दीपक जलाने को कहते हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News