त्रिपुरा: DM शैलेश यादव को सरकार ने पद से हटाया, शादी समारोह में मेहमानों से की थी बदसलूकी

2021-05-03T17:49:46.82

नेशनल डेस्क: पश्चिम त्रिपुरा के जिलाधिकारी (डीएम) को उनके आग्रह के बाद पद से मुक्त कर दिया गया है। उन्होंने कोविड-19 प्रोटोकॉल को लागू कराने के दौरान जबरन शादी समारोह रूकवा दिया था। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि शैलेश कुमार यादव ने मुख्य सचिव मनोज कुमार को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि उनके खिलाफ विभागीय जांच शुरू हो गई है, लिहाज़ा पश्चिम त्रिपुरा डीएम के पद से उन्हें मुक्त किया जाए। घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। 

उच्च स्तरीय जांच समिति का किया गया गठन
यादव ने कहा कि त्रिपुरा सरकार ने 26 अप्रैल 2021 की रात को हुई घटनाओं की जांच के लिए एक उच्च स्तरीय जांच समिति का गठन किया है। पत्र के मुताबिक, यह घटनाएं अगरतला में कोरोना रात्रि कफ्र्यू का उल्लंघन कर मणिक्या कोर्ट और गोलप बगान में विवाह समारोहों के दौरान हुई थी। मंत्रिमंडल के प्रवक्ता और राज्य के कानून मंत्री रत्नलाल नाथ ने कहा कि मुख्य सचिव ने यादव का पत्र स्वीकार कर लिया है और उन्हें पद से तत्काल प्रभाव से मुक्त कर दिया है। उद्योग एवं वाणिज्य के निदेशक हमेंद्र कुमार ने पश्चिम त्रिपुरा के डीएम का कार्यभार संभाला है। 


Content Writer

Anil dev

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static