Cyclone Yaas: CM ममता सचिवालय में बिताएंगी अगले दो दिन, NDRF की 99 टीमें तैनात

punjabkesari.in Monday, May 24, 2021 - 01:36 PM (IST)

नेशनल डेस्क: बंगाल की खाड़ी के पूर्व में बना दबाव बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। इस वजह से 155-165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने और इस चक्रवाती तूफान के 26 मई को ओडिशा के पारादीप और पश्चिम बंगाल में सागर द्वीप पर पहुंचने का अनुमान है।मौसम विभाग की ओर से  दी गई जानकारी के मुताबिक 24 मई की सुबह तक निम्न दबाव साइक्लोन में तब्दील हो जाएगा और अगले 24 घंटों में यह साइक्लोन वेरी सेवियर साइक्लोन में तब्दील हो जाएगा। तूफान के मद्देनजर ममता बनर्जी 25 और 26 तारीख को सचिवालय में ही वक्त बिताएंगी और रात में भी वह यहीं रहेंगी? राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) के डीजी एसएन प्रधान ने बताया, 'एनडीआरएफ ने चक्रवात यास  के मद्देनजर ओडिशा, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में 99 टीमों को तैनात किया है। 

PunjabKesari

चक्रवाती तूफान में बदला ‘यास'
बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरे दबाव का क्षेत्र चक्रवाती तूफान ‘यास' में बदल गया है और इसके अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में बदलने के बाद 26 मई को ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तटों से गुजरने का अनुमान है। मौसम विभाग ने सोमवार को यह जानकारी दी। कोलकाता के क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के उप निदेशक संजीब बंदोपाध्याय ने बताया कि ‘यास' के 26 मई की दोपहर को पारादीप और सागर द्वीपों के बीच होते हुए ओडिशा-पश्चिम बंगाल तटों से गुजरने का अनुमान है। यह एक बहुत ही भीषण चक्रवाती तूफान होगा जिसमें 155-165 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। मौसम विभाग के मुताबिक सोमवार की सुबह यह दबाव का क्षेत्र ओडिशा के पारादीप तथा पश्चिम बंगाल के दीघा के बीच था और इसके उत्तर-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने तथा मंगलवार तक अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में बदलने का अनुमान है। 

PunjabKesari

विभाग के अनुसार बुधवार सुबह तक ‘यास' अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। एक अधिकारी ने बताया कि चक्रवात पर नजर रखने के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य सचिवालय नबन्ना में नियंत्रण कक्ष खोले हैं। उन्होंने बताया कि तटीय जिलों पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर, दक्षिण तथा उत्तर 24 परगना, हावड़ा तथा हुगली में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। यहां कुछेक स्थानों पर 25 मई से भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक 26 मई को झारग्राम, पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर, दक्षिण तथा उत्तर 24 परगना, हावड़ा तथा हुगली और कोलकाता में जयादातर जगहों पर हल्का से मध्यम और एक या दो स्थानों पर भारी से ले कर अत्यधिक भारी बारिश होने का अनुमान है।

PunjabKesari

चक्रवात यास: वायुसेना ने 11 परिवहन विमान, 25 हेलीकाप्टर तैयार रखे हैं 
भारतीय वायुसेना ने चक्रवात ‘यास' से उत्पन्न स्थिति से निपटने की तैयारियों के तहत मानवीय सहायता और आपदा राहत कार्यों के लिए 11 परिवहन विमान और 25 हेलीकॉप्टर तैयार रखे हैं। यह जानकारी अधिकारियों ने रविवार को दी। अधिकारियों ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बन रहे चक्रवात से निपटने के लिए सरकार द्वारा कई उपायों की शुरुआत करने के बीच वायुसेना ने रविवार को तीन अलग-अलग स्थानों से 21 टन राहत सामग्री और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के 334 कर्मियों को हवाई मार्ग से कोलकाता और पोर्ट ब्लेयर पहुंचाया। अधिकारियों ने कहा कि राहत सामग्री, उपकरण और कर्मियों को पटना, वाराणसी और अराक्कोनम से पांच सी-130 विमानों का उपयोग करके पहुंचाया गया। एक अधिकारी ने कहा, ‘‘यह चक्रवात यास के मद्देनजर तैयारी के तहत है और अभियान 21 मई से जारी है। 

सशस्त्र बलों और तटरक्षक बल ने चक्रवात यास के प्रभाव को कम करने के लिए कदम उठाए 
 सेना के तीनों अंगों और भारतीय तटरक्षक बल ने चक्रवात ‘यास' से उत्पन्न स्थिति से निपटने और नुकसान को न्यूनतम करने के लिए कई कदम उठाये हैं। रक्षा मंत्रालय ने यह जानकारी दी। बंगाल की खाड़ी में उठे इस तूफान के सोमवार सुबह तक पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्रों में पहुंचने की आशंका है। अभी एक सप्ताह पहले ही अरब सागर में उठे ताउते तूफान ने गुजरात के तटीय क्षेत्रों में तबाही मचायी थी। मंत्रालय ने रविवार को एक बयान में कहा, ‘‘ पश्चिमी तट पर मानवीय सहायता एव आपदा राहत (एचएडीआर) एवं बचाव अभियान से अभी ही उबरी भारतीय नौसेना ने 10 एचएडीआर पैलेट भुवनेश्वर और कोलकाता में पहुंचाएं हैं तथा पोर्ट ब्लेयर में पांच पैलेट तैयार हैं।'' 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anil dev

Related News

Recommended News