मोदी ने की गुजरात के नए मुख्यमंत्री की भरपूर तारीफ, दिया विरोधियों को स्पष्ट संदेश!

10/15/2021 4:36:46 PM

नेशनलस डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने गृह राज्य गुजरात में अचानक नेतृत्व परिवर्तन के बाद सत्ता की कमान सम्भालने वाले नए मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल की आज एक सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान ख़ूब तारीफ़ की।  राजनीतिक विश्लेषकों के अनुसार मोदी ने 2017 के पिछले चुनाव में ही पहली बार विधायक बने पेशे से बिल्डर पटेल को पिछले माह अचानक मुख्यमंत्री बनाए जाने से कथित तौर पर नाराज़ चल रहे सत्तारूढ़ भाजपा के कुछ दिग्गजों के साथ ही साथ छोटे-बड़े सभी नेताओं को अगले साल के‘बेहद महत्वपूर्ण'विधानसभा चुनाव के पूर्व इस सम्बोधन के माध्यम से एक स्पष्ट संदेश दिया है।

 दो बार मुख्यमंत्री रहे विजय रूपाणी, उनके उप मुख्यमंत्री नीतिन पटेल समेत सभी मंत्रियों को हटा कर पटेल को अचानक पद सौंपे जाने के बाद ऐसे पहले सम्बोधन में मोदी ने कहा कि गुजरात अब सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेगा। उन्होंने कहा,'अब भूपेन्द्र भाई और उनकी टीम जुट गई हैं। एक साथी कार्यकर्ता के रूप में भूपेन्द्रभाई से मेरा परिचय 25 साल से पहले का है। वह टेक्नॉलजी के भी जानकार और ज़मीन से भी जुड़े हैं। उनका अलग अलग क्षेत्र का अनुभव गुजरात के विकास में काम आने वाला है। वह नगरपालिका सदस्य, इसके अध्यक्ष और औड़ा के प्रमुख रहे हैं और उन्होंने ग्रास रूट शासन प्रशासन को देखा समझा है। मुझे ख़ुशी है कि ऐसे अनुभवी व्यक्ति गुजरात की विकास यात्रा को तेज़ी से बढ़ाने के लिए इसका नेतृत्व कर रहे है।

आज गुजरात को गर्व कि इतने लंबे 25 साल के सार्वजनिक जीवन में उनके जीवन में कोई विवाद नहीं।वह बोलते कम है पर काम में कमी नहीं आने देते। बहुत कम लोगों को पता होगा कि उनका परिवार अध्यात्म के प्रति समर्पित है। उनके पिता जी आध्यात्मिक क्षेत्र से जुड़े रहे। उनके नेतृत्व में गुजरात चौतरफ़ा विकास करेगा इसका मुझे विश्वास है। ‘ समझा जाता है कि प्रधानमंत्री के इस सम्बोधन से पटेल का विरोध करने वाले पार्टी नेताओ को एक स्पष्ट संदेश मिला है कि उनका पूरा और खुला समर्थन पटेल के साथ है। इस सिलसिले में यह स्मरणीय है कि पटेल की ताजपोशी से पहले मुख्यमंत्री पद के मज़बूत दावेदार गिने जा रहे नीतिन पटेल ने अपने लम्बे सार्वजनिक अनुभव की ओर इशारा करते हुए किसी बेहद अनुभवी को ही यह पद दिए जाने की वकालत की थी। 

ज्ञातव्य है कि राज्य में क़रीब ढाई दशक से लगातार सत्तारूढ़ भाजपा के लिए मोदी के इस गृह राज्य में अगले साल के विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करना ख़ासा महत्वपूर्ण है। हालांकि विश्लेषकों का मानना है कि यह बहुत आसान नहीं है क्योंकि चुनाव से 15 माह पहले ही सत्ता में बड़ा फेरबदल करने और अगले चुनाव में कई सिटिंग विधायकों के टिकट काटे जाने की चर्चाओं के बीच पार्टी को अंदर से भी परोक्ष बग़ावत का सामना है।  मोदी के नयी दिल्ली से विडीओ कानफेरेंसिंग के सम्बोधन के दौरान सूरत में श्री पटेल के अलावा उनके सरकार के कई मंत्री और गुजरात से सम्बंध रखने वाले तीन केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया, परशोत्तम रूपाला, दर्शना जरदोश और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सी आर पाटिल भी उपस्थित थे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anil dev

Recommended News