3 बार रूट बदलकर...900 किमी का सफर तय कर मुख्तार अंसारी को बांदा जेल ले आई पुलिस

2021-04-07T09:21:44.047

नेशनल डेस्क: करीब दो साल पंजाब की जेल में बिताने के बाद बहुजन समाज पार्टी के विधायक और गैंगस्टर मुख्तार अंसारी को वापस उत्तर प्रदेश ले आया गया है। बांदा पुलिस का एक भारी-भरकम दल अंसारी को पंजाब के रोपड़ जेल से तड़के सुबह बांदा जेल ले आया, आज 10 बजे उसका कोरोना टेस्ट किया जाएगा। 900 किमी की दूरी को करीब 14 घंटे में पूरा किया गया, इस दौरान 3 बार रूट भी बदला गया।  बुधवार सुबह करीब 4.31 बजे मुख़्तार अंसारी गेट नंबर 2 से बांदा जेल में दाखिल हुआ। बता दें कि पंजाब के रोपड़ से बांदा तक का यह सफर चुनौतीपूर्ण था, लेकिन यूपी पुलिस ने सकुशल पूरे ऑपरेशन को अंजाम दिया।

 

बांदा मंडल कारागार के अंदर मुख्तार की एंबुलेंस और एक सुरक्षा गाड़ी गई थी। जहां पर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य द्वारा गठित 4 डॉक्टरों की टीम ने मुख्तार अंसारी का डॉक्टरी परीक्षण किया। इसके बाद मुख्तार अंसारी के सामान की तलाशी ली गई। करीब आधे घंटे तक यह प्रक्रिया चली उसके बाद मुख्तार अंसारी को जेल के अंदर भेज दिया गया।  पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि उच्चतम न्यायालय के आदेश पर पंजाब के रोपड़ जिले की जेल में बंद गैंगस्टर एवं मऊ से बसपा विधायक मुख्तार अंसारी को बांदा जेल लाने के लिए पीएसी की एक कंपनी के अलावा अत्याधुनिक हथियारों से लैस करीब 80 पुलिस जवानों का एक दल पंजाब के लिए रवाना हुआ था। सुरक्षा की दृष्टि से इसे बेहद गोपनीय रखा गया था।

PunjabKesari
प्रभारी जेल अधीक्षक प्रमोद तिवारी ने बताया कि मुख्तार को रखे जाने वाली जेल की बैरक (15 नंबर) में रोशनी, पेयजल व्यवस्था और साफ-सफाई दुरुस्त करा दी गई है । उन्होंने बताया कि इस बैरक में अन्य बंदी नहीं पहुंच पाएंगे और तीन बंदी रक्षक बैरक के अंदर भी तैनात रहेंगे। उल्लेखनीय है कि मुख्तार अंसारी एक मामले में पंजाब की रोपड़ जेल में बंद था। अंसारी को लाने के लिए राज्य सरकार और पंजाब सरकार के बीच उच्चतम न्यायालय तक मामला चला। 26 मार्च को उच्चतम न्यायालय ने फैसला सुनाते हुए उसे उत्तर प्रदेश भेजने का आदेश दिया था।

PunjabKesari
वहीं मुख्तार अंसारी के बड़े भाई और गाजीपुर से बहुजन समाज पार्टी के सांसद अफजाल अंसारी ने मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश की जेल में रखे जाने के दौरान कोई षड्यंत्र रचे जाने की आशंका जताई है। इस बीच उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री और राज्य सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार ने हर संभव प्रयास किया कि मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश पुलिस के हवाले नहीं किया जाए। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ की सरकार में किसी भी अपराधी को बख्‍शा नहीं जाएगा, माफिया को खत्म करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है और राज्य में कानून-व्यवस्था कायम रहेगी।'

PunjabKesari

 


Content Writer

vasudha

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static