Movie Review: बुलंद हौसलों के साथ राजकुमार राव ने लगाई छलांग

2020-11-13T15:28:31.18

फिल्म: छलांग
कलाकार: राजकुमार राव, नुसरत भरूचा, जीशान अली अयूब, सौरभ शुक्ला, सतीश कौशिक, इला अरुण  
निर्देशक: हंसल मेहता
रेटिंग :  3 स्टार/5*

नई दिल्ली। जिंदगी हमें कई बार ऐसे मौके भी देती है जिसमें हम अपने हालात को बेहतर बनाते हुए और खुद के लिए कुछ कर दिखाने के लिए एक लंबी छलांग लगाते हुए लोगों के लिए मिसाल पेश करते हैं। ऐसी ही जीवन में इज्जत पाने के जस्बे की कहानी है राजकुमार राव और नुसरत भरुचा की छलांग।

कहानी
फिल्म की कहानी की बात करें तो छलांग की शुरुआत हरियाणा के के एक स्कूल से होती है। जहां पर मोहिंदर हुड्डा उर्फ मोन्टू (राजकुमार) पीटी टीचर है। जिसकी जिंदगी काफी मौज में कट रही हैं क्योंकि वो एक सरकारी स्कूल का टीजर है। ऐसे में वो हमेशा अपनी मर्जी का ही करता है कभी बच्चों को कुछ एक्टिविटी सिखा देता है तो कभी ग्राउंड में टाइमपास कराते हुए बैठा देता है।

मोन्टू की लाइफ में सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन अचानक स्कूल में नीलिमी मैडम (नुसरत भरुचा) की एंट्री होती है। नीलिमी को देखकर राजकुमार राव के दिल में घंटी बज जाती है और वो उसे दिल देता है। अब स्कूल में एक नई प्रेम कहानी शुरू होती है। हर रोमांटिक फिल्म की तरह इस फिल्म में भी एक विलेन होता है जो मोन्टू के प्यार का दुश्मन बन जाता है।

अभी मोन्टू की लव स्टोरी शुरू ही हुई थी कि स्कूल में नए पीटी टीचर मिस्टर सिंह (मोहम्मद जीशान अयूब) की एंट्री होती है। मिस्टर सिंह की एंट्री के साथ ही स्टोरी में ट्विस्ट आता है क्योंकि मिस्टर सिंह के आने से मोन्टू की जिंदगी तूफान आ जाता है। उसके लव लाइफ के साथ ही उसकी नौकरी भी संकट में आ जाती है।अब देखना होगा कि क्या मोन्टू अपनी नौकरी और प्यार को बचा पाता है या नहीं।

एक्टिंग
राजकुमार राव ने हमेशा अपनी एक्टिंग से हर किसी का दिल जीता है। उन्होंने अपने इस मस्तीखोर रोल में किसी को निराश नहीं किया। वहीं फिल्म में राजकुमार राव के दुश्मन बने मिस्टर सिंह के रोल में मोहम्मद जीशान अयूब ने भी काफी बेहतर तरीके से अपने कैरेक्टर को जीया है।वहीं अगर हम फिल्म की जान और मोन्टू के प्यार की बात करें तो नीलिमी के रोल में नुसरत भरुचा ने काफी अच्छा काम किया है।

डायरेक्शन
डायरेक्टर हंसल मेहता ने फिल्म की कहान के अनुसार चुन- चुन कर सेलेब्स को चुना है। उन्हें पता था कि इस कहानी के लिए अच्छी स्टारकास्ट की जरूरत पड़ेगी और उन्होंने फिल्म को पर्दे पर उतार कर एक बार फिर से साबित कर दिया कि वो एक बेहतर डायरेक्टर हैं।फिल्म में कमिया भी है लेकिन छलांग की कहानी को देखकर आप अपने स्कूल के दिनों में खो जाएंगे कि आप उन कमियों को नजरअंदाज कर देंगे।


Chandan

Recommended News