''जोशीमठ की समस्या टल सकती थी, अगर चेत जाती सरकार'', जानें राहुल गांधी ने इस मुद्दे पर और क्या कहा

punjabkesari.in Tuesday, Jan 24, 2023 - 11:25 PM (IST)

देहरादूनः कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि ऋषिगंगा त्रासदी से सबक लेकर अगर सरकार समय रहते चेत जाती तो जोशीमठ भूधंसाव की समस्या से बचा जा सकता था। कांग्रेस की उत्तराखंड इकाई के अध्यक्ष करन माहरा ने फोन पर ‘पीटीआई/भाषा' को बताया कि गांधी ने यह बात जम्मू—कश्मीर के ऊधमपुर जिले में 'भारत जोड़ो यात्रा' के दौरान पार्टी की उत्तराखंड इकाई के नेताओं से कही। 

माहरा ने बताया कि उनके अलावा, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, प्रदेश पार्टी प्रभारी देवेंद्र यादव, उत्तराखंड विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, वरिष्ठ नेता प्रीतम सिंह, हरक सिंह, विधायक मदन बिष्ट, विक्रम नेगी सहित दर्जनों पार्टी नेता 'जोशीमठ भूधंसाव' के मुद्दे को लेकर गांधी के साथ ‘भारत जोड़ो यात्रा' में शामिल हुए। इस दौरान गांधी सहित सभी नेताओं ने हाथों में 'जोशीमठ बचाओ' नारे लिखी तख्तियां हाथ में ली हुई थीं। 

उन्होंने बताया, गांधी ने प्रदेश के नेताओं से बातचीत में यह भी कहा कि नया हिमालय संवेदनशील है लेकिन उत्तराखंड में आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत बनाए गए नियमों का पालन नहीं हो रहा है तथा विकास के नाम पर अनियंत्रित विस्फोट किए जा रहे हैं। माहरा ने कहा, ‘‘2021 में हुए ऋषिगंगा हादसे के बाद यदि समय रहते सरकार चेत गयी होती तो शायद जोशीमठ भूधंसाव जैसी यह नौबत नहीं आती। इसके अलावा क्षेत्र में चल रहे अन्य विकास कार्यों पर भी सरकार को एहतियाती कदम उठाने चाहिए थे तथा उन पर पैनी नजर रखनी चाहिए थी।'' 

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि गांधी ने इसरो की वेबसाइट पर जोशीमठ के बारे में दी गयी जानकारी हटाए जाने को भी दुखद बताया और कहा कि वैज्ञानिक संस्थानों द्वारा उपलब्ध कराये जाने वाले तथ्यों का इस्तेमाल जनता को बचाने के लिए किया जाना चाहिए। माहरा ने बताया कि उत्तराखंड के नेताओं ने गांधी को जोशीमठ आने तथा वहां के लोगों से बातचीत करने का आमंत्रण दिया है जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है। उन्होंने कहा कि ‘भारत जोड़ो यात्रा' की समाप्ति के बाद वह जल्द जोशीमठ आकर लोगों से मिलेंगे। 

उधर, सत्ताधारी भाजपा ने ‘भारत जोड़ो यात्रा' में जोशीमठ आपदा का मुद्दा उठाने को लेकर कांग्रेस की कड़ी आलोचना करते हुए इसे उसका दोहरा चरित्र करार दिया है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने यहां जारी एक बयान में कहा कि प्रदेश कांग्रेस के नेता एक ओर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मिलकर आपदा पर सुझाव देते है और अगले दिन यात्रा में शामिल होकर इस मुद्दे को राजनीतिक रंग देते हैं। 

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का एक दिन जोशीमठ आपदा को समर्पित करना उनकी नकारात्मक रणनीति का हिस्सा है। अगर ऐसा नहीं होता तो एक दिन पहले मुख्यमंत्री से मिलकर अपने सुझावों की लंबी सूची के साथ उनकी प्रशंसा करने वाले कांग्रेस के नेता दूसरे ही दिन जम्मू-कश्मीर में इसे राष्ट्रीय मुद्दा बनाने का प्रयास करते नहीं नज़र आते।'' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News