किसानों के साथ सरकार की वार्ता खत्म, एक क्लिक में पढ़ें दिनभर की बड़ी खबरें

2020-12-03T20:28:57.617

नेशनल डेस्क: नए कृषि कानून को लेकर किसानों और सरकार के बीच बैठक खत्म हो गई है। यह बैठक करीब साढ़े सात घंटे तक चली। अगली बैठक 5 दिसंबर को होगी। पिछली बार की तरह भी इस बैठक में कोई ठोस नतीजा नहीं निकल सका। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने वीरवार को किसानों, उनके जीवन तथा आजीविका को लेकर चिंता व्यक्त की है। सुश्री बनर्जी ने ट्वीट कर कहा कि मैं किसानों, उनके जीवन तथा आजीविका को लेकर बहुत चिंतित हूं। इसके अलावा, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह  ने गुरुवार को केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और प्रदर्शन कर रहे किसानों से नए कृषि कानूनों को लेकर जारी गतिरोध को समाप्त करने की अपील की।

पढ़ें दिनभर की 10 बड़ी खबरें

किसानों के साथ सरकार की वार्ता खत्म
नए कृषि कानून को लेकर किसानों और सरकार के बीच बैठक खत्म हो गई है। यह बैठक करीब साढ़े सात घंटे तक चली। अगली बैठक 5 दिसंबर को होगी। पिछली बार की तरह भी इस बैठक में कोई ठोस नतीजा नहीं निकल सका। इससे पहले किसानों ने सरकार का खाना खाने से मना कर दिया। दोपहर की चाय बंगला साहिब गुरुद्वारे से मंगाई तो लंच सिंघु बॉर्डर से मंगाया गया। वहीं बैठक के दौरान किसानों ने एक बार फिर सरकार से कहा कि वह संसद का विशेष सत्र बुलाकर कृषि कानूनों को रद्द करे।

ममता बनर्जी की मोदी सरकार को चेतावनी 
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने वीरवार को किसानों, उनके जीवन तथा आजीविका को लेकर चिंता व्यक्त की है। सुश्री बनर्जी ने ट्वीट कर कहा कि मैं किसानों, उनके जीवन तथा आजीविका को लेकर बहुत चिंतित हूं। केंद्र सरकार को किसान विरोधी कानून को अवश्य वापस लेना चाहिए। ममता बनर्जी ने  कहा कि यदि केंद्र सरकार तुरंत ऐसा नहीं करती है, तो हम पूरे राज्य और देश में आंदोलन करेंगे। शुरू से ही, हम किसान विरोधी इन कानूनों का कड़ा विरोध करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने चार दिसंबर यानी शुक्रवार को अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस की एक बैठक बुलाई है। 

कैप्टन ने की शाह से मुलाकात
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह  ने गुरुवार को केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और प्रदर्शन कर रहे किसानों से नए कृषि कानूनों को लेकर जारी गतिरोध को समाप्त करने की अपील की और कहा कि इससे पंजाब की अर्थव्यवस्था और राष्ट्र की सुरक्षा प्रभावित हो रही है। सिंह ने शाह से उनके आवास पर बैठक के बाद कहा कि जल्द से जल्द आम सहमति पर पहुंचना चाहिए और दोनों पक्षों को मामले पर अड़ियल रवैया नहीं अपनाना चाहिए। 

नहीं रहे MDH 'मसाला किंग' धर्मपाल गुलाटी
मसाला किंग के नाम से मशहूर एमडीएच के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी  का वीरवार को निधन हो गया। 98 साल के  धर्मपाल गुलाटी ने दिल्ली के माता चंदन देवी अस्पताल में आखिरी सांस ली। जानकारी के अनुसार वीरवार सुबह उन्हे हार्ट अटैक आया, जिसके बाद उन्हे अस्पताल ले जाया गया।  पिछले दिनों उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी लेकिन वह कुछ दिन बाद ठीक हो गए थे।  महाशय धर्मपाल गुलाटी का जन्म 27 मार्च 1923 में पाकिस्तान के सियालकोट में हुआ था और यहीं से उनके व्यवसाय की नीव पड़ी थी। 

इसी महीने मिल सकता है कोविड-19 टीका
कोरोना वायरस महामारी से सभी लोग उब चुके हैं। हर किसी को इंतजार है कि कोरोना की वैक्सीन कब आएगी और इस महामारी से निजात मिलेगी। दुनियाभर के कई देशों में अलग-अलग दवा कंपनियों की वैक्सीन ट्रायल पर चल रही है। इस बीच एम्स दिल्ली के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने देशवासियों के साथ अच्छी खबर शेयर की है। डॉ. रणदीप गुलेरिया ने बताया कि भारत में कोरोना टीके का ट्रायल आखिरी चरण में है।

राजधानी में नहीं लगेगा नाइट कर्फ्यू
दिल्ली की आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने बृहस्पतिवार को दिल्ली उच्च न्यायालय को बताया कि कोविड-19 महामारी रोकथाम के लिए फिलहाल राष्ट्रीय राजधानी या इसके हिस्सों में कर्फ्यू नहीं लगाया जाएगा। दिल्ली सरकार ने न्यायमूर्ति हिमा कोहली और न्यायमूर्ति सुब्रह्मण्यम प्रसाद की पीठ को इस बारे में जानकारी दी। दरअसल अदालत द्वारा जारी निर्देश और सलाह वकील राकेश मल्होत्रा की राष्ट्रीय राजधानी में जांच बढ़ाने और तेजी से परिणाम देने को लेकर दायर की गई एक याचिका की सुनवाई के दौरान आप सरकार ने अपनी रिपोर्ट पेश की।

यूपी के लव-जिहाद अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती
यूपी सरकार द्वारा लाए गए धर्मांतरण अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है। दो वकीलों और एक कानून शोधकर्ता ने इस मामले में याचिका दाखिल की है, याचिका में कहा गया है कि अध्यादेश का दुरुपयोग किसी को भी गलत तरीके से फंसाने के लिए किया जाएगा और अराजकता पैदा करेगा। याचिकाकर्ता ने शीर्ष अदालत से अध्यादेशों को अवैध और असंवैधानिक करार देने की मांग की है।

राजनीति में सुपरस्टार रजनीकांत की एंट्री
तमिल फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने अंतत: तमाम अटकलों को विराम देते हुए गुरुवार को कहा कि वह आगामी जनवरी में अपनी स्वयं की पार्टी के जरिए सक्रिय राजनीति में आयेंगे और अगला विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। रजनीकांत ने ट्विटर पर कहा कि वह 31 दिसम्बर को पार्टी की घोषणा करेंगे। रजनीकांत ने सब कुछ बदल जाने की बात पर जोर देते हुए कहा, ‘‘अब नहीं तो कभी नहीं।''

सरकार ने बढ़ाई घरेलू उड़ानों की संख्या
नागर विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने गुरुवार को कहा कि भारतीय विमानन कंपनियों के लिए घरेलू उड़ान संचालन संख्या को कोविड से पहले के स्तर के मुकाबले 70 प्रतिशत से बढ़ाकर 80 प्रतिशत कर दिया गया है। मंत्री ने 11 नवंबर को कहा था कि विमानन कंपनियां कोविड से पहले के स्तर के मुकाबले 70 प्रतिशत घरेलू यात्री उड़ानों का संचालन कर सकती हैं। पूरी ने गुरुवार को ट्वीट किया, ‘‘घरेलू परिचालन 25 मई को 30,000 यात्रियों के साथ शुरू हुआ और अब 30 नवंबर 2020 को इसने 2.52 लाख का आंकड़ा छू लिया है।'' 

ट्रूडो के बयान से खालिस्तानी साजिश की बू ! आग में घी डाल सकता है पाक
भारत में किसान आंदोलन की चिंगारी अब विदेशों तक पहुंच चुकी है । मोदी सरकार के नए कृषि बिल का विरोध विदेशी में बसे भारतीयों द्वारा  किया जा रहा है। किसान परिवारों के विदेशों में बसे  रिश्तेदार इस आंदोलन को लेकर चिंतित हैं और इसके खिलाफ आवाज बुलंद कर रहे हैं। इस बीच किसान आंदोलन को लेकर टिप्पणी कर प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो बुरी तरह विवादों में घिर गए हैं।  ट्रूडो के बयान को खालिस्तान आंदोलन की साजिश से जोड़ा जा रहा है। 
 


Author

rajesh kumar

Recommended News