आतंकवादियों की घुसपैठ रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाये जा रहे हैं: बीएसएफ महानिदेशक

2020-11-19T17:10:11.703

श्रीनगर: सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) प्रमुख राकेश अस्थाना ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) से आतंकवादियों की घुसपैठ की कोशिशों के बीच बृहस्पतिवार को कहा कि कश्मीर में बहुत भारी बर्फबारी से पहले की अवधि आतंकवादियों के लिए इस तरफ आने के लिए "बहुत उपयुक्त' है और सुरक्षा बल स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। बीएसएफ महानिदेशक राकेश अस्थाना ने कहा कि बल इस मोर्चे पर किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।  नियंत्रण रेखा से घुसपैठ की लगातार कोशिशों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, "हम पहली रक्षा पंक्ति हैं और हम देश की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध और दृढ़ हैं।"

PunjabKesari

अस्थाना पैरा-एथलीटों का समर्थन करने के लिए कश्मीर से कन्याकुमारी तक छठीं 'न्फिनिटी राइड 2020' को झंडी दिखाकर रवाना किये जाने के एक समारोह के मौके पर पत्रकारों से बात कर रहे थे।  उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारी बर्फबारी से पहले और आतंकवादियों को घुसपैठ कराने के प्रयास कर रहा है लेकिन बीएसएफ और अन्य सभी एजेंसियां ​​और सुरक्षा बल तैयार हैं और स्थिति से निपटने का पूरा प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा, "आतंकवादियोंको हमारे देश में घुसपैठ कराने के प्रयास किये जा रहे हैं और विशेष रूप से यह अवधि ऐसी गतिविधियों के लिए बहुत अनुकूल है। हम इसे रोकने के लिए जो भी जवाबी उपाय कर रहे हैं वे बहुत प्रभावी हैं। बीएसएफ महानिदेशक के तौर पर मैं आपको बता सकता हूं कि हम इस तरह के प्रयासों को विफल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और हम स्थिति से प्रभावी ढंग से निपटेंगे।"

PunjabKesari

उन्होंने कहा, "यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें बहुत अधिक ध्यान देने, बहुत सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। यह स्थिति है, इसमें कोई संदेह नहीं है और हम इसका सामना कर रहे हैं।" जम्मू में इससे पहले सुबह हुई एक मुठभेड़ में चार आतंकवादियों के मारे जाने का जिक्र करते हुए बीएसएफ महानिदेशक अस्थाना ने कहा कि यह इसलिए हुआ क्योंकि सुरक्षा बल सीमा पार से घुसपैठ की कोशिशों को लेकर सतर्क थे।

 

उन्होंने कहा, "आतंकवादी शिविर में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में जानकारी मिलती रहती है। हम सतर्क हैं और इसका मुकाबला करने के लिए तैयार हैं। आज की मुठभेड़ भी यह संकेत देती है कि हमारी सभी सुरक्षा एजेंसियां ​​और पुलिस बल सतर्क हैं और उसका (घुसपैठ) मुकाबला करने के लिए तैयार हैं।" उन्होंने कहा कि बीएसएफ सीमावर्ती क्षेत्रों के आसपास रहने वाले नागरिकों को लेकर प्रतिबद्ध है और सीमा सुरक्षा बल उन्हें कठिन समय में हर तरह की सहायता प्रदान करेगा।

PunjabKesari

अधिकारी ने कहा कि बल पाकिस्तान द्वारा हाल में किये गए संघर्षविराम उल्लंघन से प्रभावित लोगों की मदद के लिए अपनी नागरिक कार्य योजना के तहत एक चिकित्सा शिविर का आयोजन कर रहा है।


Monika Jamwal

Recommended News