Corona डॉक्टर-नर्स, किसान और मजदूरों के लिए मोदी सरकार का महा पैकेज, राहुल गांधी ने भी की तारीफ

2020-03-26T16:28:50.617

नई दिल्ली: कोरोना वायरस ने पूरे देश में लॉकडाउन करवा दिया है, ऐसे में मोदी सरकार ने हर तबके का ध्यान रखते हुए  1.7 लाख करोड़ के कोरोना स्पेशल पैकेज का ऐलान किया है। मोदी के इस स्पेशल पैकेज की कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी तारीफ की है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आर्थिक पैकेज की घोषणा का स्वागत किया है। राहुल ने ट्वीट किया कि वित्तीय सहायता पैकेज की आज सरकार ने घोषणा की है जोकि सही दिशा में पहला कदम है।

PunjabKesari

राहुल ने लिखा कि किसानों, दिहाड़ीदारों, मजदूरों, महिलाओं और बुजुर्गों के लिए जो आज वित्तीय सहायता पैकेजकी घोषणा की वो उचित कदम है क्योंकि ये लोग लॉकडाउन का खामियाजा भुगत रहे हैं। बता दें कि गुरुवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना  स्पेशल आर्थिक पैकेज की घोषणा की। इस योजना को दो हिस्सों में बांटा गया है। वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार सबसे पहली प्राथमिकता है कि देश में कोई भी भूखा न रहे। उन्होंने बताया कि  डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) के तहत अकाउंट में पैसे भेजे जाएंगेऔर जिनके बैंक में अकाउंट नहीं हैं उनके नए खाते खोले जाएंगे। 

PunjabKesari

कोरोना आर्थिक स्पेशल पैकेज की बड़ी बातें

  • कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे डॉक्टर, नर्स, आशा सहयोगी और अन्य मेडिकल स्टॉफ के लिए इंश्योरेंस की घोषणा की गई। सरकार ने इन लोगों के लिए 50 लाख के मेडिकल इंश्योरेंस का ऐलान किया है। इस मेडिकल इंश्योरेंस का लाभ करीब 20 लाख मेडिकलकर्मियों को मिलेगा।
  • 8.7 करोड़ किसानों के अकाउंट में अप्रैल के पहले हफ्ते में 2000 रुपये की किस्त डाल दी जाएगी।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत अन्न योजना में 80 करोड़ गरीब लोगों को कवर किया जाएगा। इस योजना के तहत अगले तीन महीने तक 5 किलो चावल/गेहूं मुफ्त में दिया जाएगा और इसके अलावा 1 किलो दाल हर परिवार को मुफ्त में मिलेगी।
  • देश में मनरेगा योजना का लाभ 5 करोड़ परिवारों को मिलता है। मनरेगा दिहाड़ी अब 182 से बढ़ाकर 202 रुपए कर दी गई है।
  •  बुजुर्ग, दिव्यांग और विधवाओं को एकमुश्त 1000 रुपए दो किस्तों में अलग से दी जाएगी। यह अगले तीन महीने में दी जाएगी और इसका लाभ करीब 3 करोड़ लोगों को मिलेगा।
  • वुमन सेल्फ हेल्प ग्रुप के लिए 20 लाख तक लोन का ऐलान किया गया है। 
  • उज्ज्वला योजना के तहत देश के करीब 8.3 करोड़ परिवारों को गैस सिलेंडर मिला है। अगले तीन महीने तक उन्हें मुफ्त में गैस सिलेंडर मिलता रहेगा।
  • देश में जिन महिलाओं के नाम पर करीब 20 करोड़ जनधन खाते खुले हैं। उनके अकाउंट में अगले तीन महीने तक 500-500 रुपए दिए जाएंगे।
  • जिन लोगों की सैलरी 15000 से कम है सरकार उनके EPFO में  एंप्लॉयर और एंप्लॉयी दोनों का हिस्सा (बेसिक सैलरी का 24 पर्सेंट) जमा करेगी। यह उन कंपनियों पर लागू होगा जहां 100 से कम एंप्लॉयी काम करते हैं 
  • सरकार ने EPF के नियमों में ढील दी है। एंप्लॉयी अपने पीएफ अकाउंट से 75 फीसदी तक की निकासी कर सकते हैं। हालांकि यह तीन महीने की सैलरी से कम होनी चाहिए।
  • कंस्ट्रक्शन क्षेत्र में काम करने वाले असंगठित मजदूरों के लिए भी सरकार ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि ऐसे लोग इसके लिए बनाए गए 31000 करोड़ रुपए के फंड का उचित इस्तेमाल कर सकेंगे।

Seema Sharma

Related News