राजस्थान के बारां में सांप्रदायिक हिंसा, कर्फ्यू लगाया गया, इंटरनेट सेवा निलंबित

2021-04-11T22:20:44.323

कोटाः राजस्थान के बारां जिले के छबड़ा शहर में दो युवकों को छुरा घोंपे जाने के बाद रविवार को सांप्रदायिक हिंसा फैल गई एवं भीड़ ने दर्जनों वाहन एवं दुकानों में आग लगा दी तथा तोडफोड़ की। प्रशासन ने शहर में कर्फ्यू लगा दिया है एवं इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी है। 

पुलिस ने हिंसक भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे लेकिन दो समुदायों के लोग हाथों में डंडे, लोहे की छड़ें एवं हथियार लेकर देर शाम तक उपद्रव करते रहे। उन्होंने एक दमकल गाड़ी में भी आग लगा दी और पुलिस एवं सरकारी वाहनों समेत सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। घटनास्थल पर मौजूद बारां के पुलिस अधीक्षक विनीत बंसल ने कहा, ‘‘ स्थिति तनावपूर्ण है । भीड़ की हिंसा जारी है और हम स्थिति नियंत्रित करने का प्रयास कर रहे हैं।'' वैसे हिंसा में किसी के हताहत होने की कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। 

अधिकारियों ने बताया कि अतिरिक्त सुरक्षाबलों को बुलाया गया है तथा कोटा रेंज के डीआईजी रवि गौड़ समेत वरिष्ठ अधिकारी हिंसा प्रभावित क्षेत्र में गये हैं। सूत्रों के अनुसार शनिवार शाम को धरनावाड़ा सर्किल में कमल गुर्जर (32) और राकेश धाकड़ (21) को एक अन्य समुदाय के चार पांच युवकों ने हमले में घायल कर दिया था। घायल युवकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया और उसके बाद उनके परिवारों एवं जाट और गुर्जर समुदायों के सदस्यों ने पांच आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करते हुए शनिवार रात को धरनावाड़ा सर्किल पर धरना दिया। 

पुलिस ने शनिवार देर रात तीन आरोपियों को पकड़ा जबकि मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई। सूत्रों के अनुसार रविवार सुबह फिर प्रदर्शनकारी प्रदर्शन करने लगे और उन्होंने दुकानें बंद करने की मांग की। जब प्रदर्शनकारियों ने अलीगंज और एजाज नगर से गुजरते हुए व्यापारियों से दुकानें बंद करने को कहा तब हिंसा फैल गई और वह अन्य क्षेत्रों तक जा पहुंची। 

धरनावाड़ा सर्किल, स्टेशन रोड, एजाज नगर और अलीगंज क्षेत्रों में करीब 10-12 दुकानें जला दी गयीं और एक निजी यात्री बस, कारों एवं अन्य वाहनों के साथ-साथ एक दमकलगाड़ी भी आग के हवाले कर दी गयी। बारां के जिलाधिकारी ने छबड़ा के नगरपालिका क्षेत्र में रविवार को शाम चार बजे से कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया। अधिकारियों के अनुसार जिले में 13 अप्रैल को शाम चार बजे तक इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी गई है।


Content Writer

Pardeep

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static