लोकसभा सांसद दानिश अली को BSP ने किया सस्पेंड, पार्टी ने बताई कार्रवाई की वजह

punjabkesari.in Saturday, Dec 09, 2023 - 06:42 PM (IST)

नेशनल डेस्कः बहुजन समाज पार्टी ने उत्तर प्रदेश के अमरोहा से सांसद दानिश अली को पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण शनिवार को बसपा से निलंबित कर दिया। बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने इसकी जानकारी दी। मिश्र ने सांसद पत्र लिख कर उन्हें निलंबन की जानकारी दी, जिसकी एक प्रति मीडिया को भी जारी की गई।

पत्र में कहा गया है, ‘‘आपको अनेकों बार मौखिक रूप से कहा गया कि आप पार्टी की नीतियों, विचारधारा एवं अनुशासन के विरूद्ध जाकर कोई भी बयानबाजी या कृत्य आदि नहीं करें, परंतु इसके बाद भी आप लगातार पार्टी के खिलाफ जाकर कृत्य करते आ रहे हैं।'' इसमें कहा गया है, ‘‘आपको यह भी अवगत कराना उचित होगा कि कर्नाटक में सन 2018 के विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी और जनता दल (एस) के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ा गया था, और आप इस गठबंधन में देवगौड़ा जी की पार्टी की तरफ से काफी सक्रिय रहे थे।

मिश्र ने पत्र में कहा, ''कर्नाटक के उक्त चुनाव के नतीजों के आने के बाद देवगौड़ा जी के अनुरोध पर आपको अमरोहा से बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी के रूप में टिकट दिया गया, टिकट दिए जाने के पूर्व देवगौड़ा जी ने यह आश्वासन दिया था कि आप बहुजन समाज पार्टी का टिकट मिलने के उपरान्त पार्टी की सभी नीतियों एवं निर्देशों का सदैव पालन करेंगे तथा पार्टी हित में काम करेंगे।'' उन्होंने कहा, ‘‘इस आश्वासन को आपने भी उनके समक्ष दोहराया था। इसी आश्वासन के बाद ही आपको बसपा की सदस्यता ग्रहण करायी गई थी और अमरोहा से चुनाव लड़ा कर लोकसभा में भेजा गया। लेकिन, अपने दिए गये आश्वासनों को भूल कर पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त हैं।'' पत्र में कहा गया, ‘‘अत: पार्टी के हित में आपको बहुजन समाज पार्टी की सदस्यता से तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।'' दानिश अली उत्तर प्रदेश की अमरोहा सीट से बसपा के सांसद हैं।

बिधुड़ी से विवाद के बाद आए चर्चा में
बसपा सांसद अभी हाल ही में तब चर्चा में आए थे, जब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद रमेश बिधूड़ी ने 21 सितंबर को लोकसभा में बहुजन समाज पार्टी के सांसद दानिश अली के खिलाफ कथित आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल किया था। बिधूड़ी ने ‘चंद्रयान-3 की सफलता और अंतरिक्ष क्षेत्र में भारत की उपलब्धियों के विषय पर चर्चा में भाग लेते हुए अली के खिलाफ कुछ ऐसी टिप्पणी की थी जिस पर विपक्षी सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया था। दानिश अली ने कहा था कि भाजपा सदस्य को अपनी टिप्पणियों के लिए माफी मांगनी चाहिए। इस घटना के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी बसपा सांसद दानिश अली से मिले थे और तभी से अफवाहों का बाजार गर्म हो गया था ।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Recommended News

Related News