दिल्ली में दो साल बाद दशहरा उत्सव की धूम, सितारों से सजी रामलीला की वापसी

punjabkesari.in Saturday, Oct 01, 2022 - 10:22 PM (IST)

नेशनल डेस्क : दिल्ली में दो साल की प्रतीक्षा के बाद सितारों से सजी रामलीला की वापसी के साथ हर तरफ दशहरा उत्सव की धूम है जो अधिक भव्य व आकर्षक तरीके से मनाया जा रहा है। इस साल के उत्सव ने कोविड से उपजे तनाव का अंत कर दिया है और राजधानी की शाम रंग, संगीत और नृत्य से सराबोर है। शहर में दुर्गा पूजा पंडालों की भरमार है और रामलीला में अच्छी संख्या में लोग शामिल हो रहे हैं।

दिल्ली में भव्य रामलीला प्रस्तुति के लिए मशहूर लाल किला स्थित ‘लव कुश रामलीला' ने महाकाव्य के विभिन्न पात्रों की भूमिका निभाने के लिए कई बॉलीवुड और टीवी सितारों के अलावा नेताओं को आमंत्रित किया है। राघव तिवारी (राम), देबलिना चटर्जी (सीता), अखिलेंद्र मिश्रा (रावण),अरुण मंडोला (लक्ष्मण), अमित नांगिया (मंदोदरी) समेत कई टीवी और फिल्मी सितारों ने इस साल की प्रस्तुति में भाग लिया है। मनोज तिवारी (केवट), बृजेश गोयल (अंगद), फग्गन सिंह कुलस्ते (विष्णु), विजेंद्र गुप्ता (जनक), अश्विनी कुमार चौबे (विश्वामित्र) समेत कई नेताओं ने भी रामलीला मंचन में हिस्सा लिया। लव कुश रामलीला कमेटी के प्रमुख अर्जुन कुमार ने कहा कि लोग प्रतिबंधों को हटाने का स्वागत कर रामलीला में शमिल हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पांच लाख से अधिक आमंत्रण कार्ड वितरित किये गये हैं। कुमार ने कहा कि अभी 25 हजार से अधिक लोग रामलीला देखने आ रहे हैं और दशहरे के दिन यह संख्या एक लाख से अधिक होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि इस साल त्रिस्तरीय स्टेज तैयार करने में सभी तरह की आधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है। कुमार ने बताया कि राम और रावण का युद्ध पूरी तरह हवा में लड़ा जायेगा और इसके लिए क्रेन का इस्तेमाल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि विजयादशमी के दिन पांच अक्टूबर को अभिनेता प्रभास इस कार्यक्रम में शामिल होंगे और रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद के पुतलों को जलाने के लिए तीर चलाएंगे। लव कुश रामलीला का समापन 6 अक्टूबर को होगा।

मंडी हाउस में श्रीराम भारतीय कला केंद्र (एसबीकेके) की ‘श्री राम' रामलीला के 66वें संस्करण में श्रद्धालुओं का स्वागत नर्तकों-अभिनेताओं, नये संगीत और नये वेशभूषा से किया गया। एसबीकेके की निदेशक और उपप्रमुख शोभा दीपक सिंह ने ‘पीटीआई-भाषा' से कहा कि एसबीकेके की रामलीला प्रस्तुति में ओडिशा, बंगाल और केरल समेत कई राज्यों के कलाकारों के साथ श्रीलंका, अजरबैजान और वेनेजुएला समेत कई देशों के विद्यार्थियों को शामिल किया गया है। एसबीकेके की ‘श्री राम' रामलीला दिल्ली में दिखाई जानी वाली सबसे लंबी रामलीला है, जो इस साल 26 सितंबर से शुरू होकर 22 अक्टूबर तक चलेगी।

उत्तरी दिल्ली के पीतमपुरा में ‘ब्रॉडवे रामलीला' का आयोजन आर्यन हेरिटेज फाउंडेशन कर रहा है। इस रामलीला में तीन घंटे का शो एक विशाल मंच पर दिखाया जाता है, जिसमें उदित नारायन और कैलाश खेर और अन्य के गीत होते हैं और सूत्रधार की भूमिका में मुकेश खन्ना हैं। ‘ब्रॉडवे रामलीला' में मोहनी अट्टम, कथकली, छऊ और समसामयिक प्रारूप के नृत्य का भी समावेश है। आर्यन हेरिटेज फाउंडेशन के राजेंद्र मित्तल ने पीटीआई-भाषा से कहा कि दो साल के बाद बिना किसी प्रतिबंध के रामलीला का मंचन हो रहा है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Parveen Kumar

Related News

Recommended News