ओमिक्रॉन खतरा: पिछले 15 दिन में अफ्रीकी देशों से आए 1000 यात्री मुंबई उतरे

punjabkesari.in Tuesday, Nov 30, 2021 - 06:45 AM (IST)

मुंबईः कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन ने पूरी दुनिया में खलबली मचा दी है। इसे रोकने के लिए तमाम देशों की सरकारें प्रयास भी कर रही हैं। वहीं एक समय पर देश में कोरोना के मामले बढ़ने को लेकर जिम्मेदार ठहराई गई आर्थिक राजधानी मुंबई में इसे लेकर एक बार फिर लापरवाही देखने को मिल रही है। इसका खुलासा भी बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक वरिष्ठ अफसर ने किया है। 

बीएमसी के वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को जानकारी दी कि ओमिक्रॉन स्वरूप सामने आने वाले अफ्रीकी देशों से पिछले 15 दिनों में कम से कम 1,000 यात्री मुंबई आए हैं। उन्होंने कहा कि मुंबई नागरिक निकाय को इनमें से 466 की सूची मिली थी, इनमें से कम से कम 100 यात्रियों के स्वाब के नमूने एकत्र किए गए।

बृहन्मुंबई नगर निगम के अतिरिक्त नगर आयुक्त सुरेश काकानी ने बताया कि हवाईअड्डा प्राधिकरण ने सूचित किया है कि पिछले एक पखवाड़े में करीब 1,000 यात्री अफ्रीकी देशों से मुंबई पहुंचे थे, लेकिन उसने अब तक केवल 466 ऐसे यात्रियों की सूची सौंपी है। 

काकानी ने कहा कि 466 यात्रियों में से 100 मुंबई के ही रहने वाले हैं। हमने पहले ही उनके स्वाब के नमूने एकत्र कर लिए हैं। अगले दो दिनों तक उनकी रिपोर्ट आने की उम्मीद है। इससे यह स्पष्ट हो जाएगा कि वे सभी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं या नहीं। 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने पिछले हफ्ते ओमिक्रॉन को 'चिंता के प्रकार' के रूप में वर्गीकृत किया था। काकानी ने कहा कि यदि उनकी परीक्षण रिपोर्ट नकारात्मक है, तो कोई समस्या नहीं होगी। हालांकि डब्ल्यूएचओ की सलाह के अनुसार, महानगरपालिका सकारात्मक नमूनों में एस-जीनोम के गायब होने की जांच कराने जा रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News