असीरियन राजा की प्राचीन मिट्टी की तख्ती इराक वापस भेजी जा रही है

09/23/2021 7:55:25 PM

वाशिंगटन, 23 सितंबर (एपी) दक्षिण - पश्चिम एशिया के एक प्राचीन राजा के पुस्तकालय के खंडहरों में खोजी गई 3,500 साल पुरानी मिट्टी की एक तख्ती, जिसे 30 साल पहले एक इराकी संग्रहालय से लूटा गया था, आखिरकार इराक वापस भेजी जा रही है।
1.7 मिलियन कीलाकार लिपि पाली मिट्टी की तख्ती 1853 में असीरियन राजा असुर बनिपाल के पुस्तकालय के मलबे में मिली थी।
अधिकारियों का मानना ​​​​है कि इसे 2003 में अमेरिका में अवैध रूप से लाया गया था, फिर हॉबी लॉबी को बेच दिया गया और अंततः देश की राजधानी में बाइबिल के उसके संग्रहालय में प्रदर्शन के लिए रख दिया गया था।
होमलैंड सिक्योरिटी इन्वेस्टिगेशन के साथ संघीय एजेंटों ने सितंबर 2019 में संग्रहालय से इस तख्ती, जिसे गिलगमेश ड्रीम टैबलेट के रूप में जाना जाता है, को जब्त कर लिया। कुछ महीनों बाद, ब्रुकलिन, न्यूयॉर्क में संघीय अभियोजकों ने एक सिविल अदालत की कार्यवाही शुरू की, जिसके परिणामस्वरूप यह प्रत्यावर्तन हुआ, जो बृहस्पतिवार दोपहर को स्मिथसोनियन नेशनल म्यूजियम ऑफ द अमेरिकन इंडियन में एक समारोह में होने वाला है जिसमें इराक के अधिकारी शामिल होंगे।
एपी कृष्ण नरेश नरेश 2309 1952 वाशिंगटन

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News