हिना रब्बानी खार बनीं पाकिस्तान की विदेश राज्य मंत्री, जानिए इनके बारे में सबकुछ

punjabkesari.in Tuesday, Apr 19, 2022 - 06:15 PM (IST)

इंटरनेशनल डेस्कः पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के मंत्रिमंडल के 37 सदस्यों ने आखिरकार मंगलवार को शपथ ले ली। इसमें एक नाम की चर्चा पाकिस्तान के साथ भारत में भी खूब हो रही है। वह नाम है हिना रब्बानी खार का। हिना पाकिस्तान की कैबिनेट की सबसे खूबसूरत महिला मंत्री हैं। हिना को विदेश राज्यमंत्री बनाया गया है। इससे पहले भी वह विदेश मंत्री रह चुकी हैं। 

हिना रब्बानी खार जब पाकिस्तान की विदेश मंत्री थीं, तब वे भारत दौरे पर भी आई थीं। भारत दौरे के दौरान हिना रब्बानी खार खूब चर्चा में रही थीं, खासकर वे अपने लुक्स और फैशन को लेकर। हिना रब्बानी खार राजनीति में ही नहीं, बल्कि फैशन के मामले में भी वो अपने देश की अभिनेत्रियों को टक्कर देती हैं।

हिना रब्बानी खार का जन्म 19 नवंबर 1977 को पाकिस्तान के पंजाब स्थित मुल्तान में हुआ था। वह जाट परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनके पिता गुलाम नूर रब्बानी खार एक रसूखदार राजनीतिक शख्सियत रहे। वह सांसद भी रहे। हिना रब्बानी ने लाहौर यूनिवर्सिटी ऑफ मैनेजमेंट साइंसेज (एलयूएमएस) से बीएससी इकनॉमिक्स ऑनर्स की पढ़ाई की है। इसके बाद एमएससी करने के लिए वह अमेरिका चली गईं। 

पीपीपी में आते ही बिलावल से नजदीकियां बढ़ गईं
2002 में पाकिस्तान मुस्लिम लीग के बैनर तले चुनाव लड़ने वाली हिना 2008 में पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) के साथ जुड़ गईं थीं। यहीं से उनकी और पीपीपी के युवा नेता बिलावल भुट्टो की नजदीकियां बढ़ गईं। 2011 में हिना को विदेश राज्य मंत्री बनाया गया। इसके बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हिना की खूबसूरती के चर्चे होने लगे। विदेश मंत्री बनने के बाद हिना दो दिन के भारत दौरे पर आईं। तब उनकी तस्वीरें खूब सोशल मीडिया पर वायरल हुईं थीं। 

बिलावल के साथ इश्क के चर्चे
पीपीपी चीफ बिलावल भुट्टो और हिना रब्बानी के इश्क के चर्चे भी खूब होते हैं। पाकिस्तान की अलग-अलग मीडिया ने दावा किया था कि एक बार दोनों को राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के सरकारी आवास में आपत्तिजनक हालत में देखा गया था। इसके बाद जरदारी ने बिलावल और हिना के मोबाइल रिकॉर्ड चेक किए थे। तब दोनों के अवैध संबंध के बारे में मालूम चला था। 21 सितंबर 2011 को रब्बानी ने बिलावल को जन्मदिन पर बधाई दी थी। ग्रीटिंग कार्ड भी भेजा था। इसमें एक मैसेज लिखा था- 'हमारा रिश्ता कभी न बदलने वाला शाश्वत है और जल्द ही हम एक हो जाएंगे।'

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी के नए मंत्रिमंडल के सदस्यों को पद की शपथ दिलाने से इनकार करने के बाद सीनेट के अध्यक्ष सादिक संजारानी ने उन्हें शपथ दिलवाई। मंत्रिमंडल के सदस्यों को सोमवार को शपथ ग्रहण करनी थी, लेकिन राष्ट्रपति अल्वी के उन्हें शपथ दिलाने से इनकार करने के बाद शपथ समारोह स्थगित कर दिया गया था।

मंत्रिमंडल में 31 कैबिनेट मंत्रियों और तीन राज्य मंत्रियों ने शपथ ली है और प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने आज शाम इसकी पहली बैठक आहूत की है। नये मंत्रिमंडल में 13 मंत्री पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) से बनाये गये हैं, जबकि बिलावल भुट्टो के नेतृत्व वाली पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) को नौ मंत्री पद दिये गये हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News