चीन में फिर कोरोना का प्रकोप; कई गांव सील, फेंगटिंग टाउन उच्च जोखिम वाला क्षेत्र घोषित

2021-09-13T17:49:05.56

बीजिंग: चीन में एक बार फिर कोरोना वायरस प्रकोप बढ़ता जा रहा है। यहां संक्रमण के 46 नए मामले सामने आए हैं जिनमें 20 मामले एक दक्षिणी प्रांत में स्थानीय स्तर पर फैले संक्रमण के हैं जहां अधिकारी प्रकोप को फैलने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि स्थानीय रूप से फैले संक्रमण के 19 मामले फूजियान प्रांत के पुतियान में सामने आए हैं और एक मामला पास के कुआनझोउ में सामने आया। इसके बाद निवासियों को शहर न छोड़ने की सलाह दी गई है। शुरुआती जांच से पता चला है कि ताजा प्रकोप कोरोना के डेल्टा वेरिएंट  वजह से सामने आया है। संक्रमण के अन्य सभी मामले विदेशों से आए लोगों में हैं।

 

सरकारी मीडिया के मुताबिक, जियानयू के गांवों में जहां कोरोना के मामले सामने आए हैं, उन्हें सील कर दिया गया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार  नए स्थानीय संक्रमणों की सूचना के बाद काउंटी के फेंगटिंग टाउन को कोविड-19 उच्च जोखिम वाले क्षेत्र के रूप में नामित किया गया है।  जियानयू के कोविड-19 रिस्पांस हेडक्वाटर ने निवासियों को घर से काम करने, सार्वजनिक परिवहन में मास्क पहनने की सलाह दी है और बड़ी सभाओं पर प्रतिबंध लगा दिया है। काउंटी के इनडोर स्थलों, म्यूजियम और मूवी थियेटर्स को बंद कर दिया गया है।

 

चीन ने डेल्टा वेरिएंट की वजह से आए प्रकोप को जुलाई में संभाल लिया था। ये 2020 में वुहान में  सामने आए कलस्टर के बाद सबसे भयानक था। हालांकि, एक बार फिर चीन में नया कलस्टर सामने आया है। नए मामले सिंगापुर से पिछले महीने लौटने वाले चीनी नागरिक से जुड़े हुए हैं। कम से कम छह ऐसे केस हैं, जो सीधे तौर पर चीनी नागिरक की वजह से सामने आए हैं। इस व्यक्ति के संपर्क में आए छोटे बच्चों सहित सैकड़ों लोगों आइसोलेट किया गया है। बताया गया है कि शुक्रवार को दो परिवारों के छह लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं और  इसमें 10 और 12 साल के चीन बच्चे भी शामिल थे।

 

इसके अलावा पुतियान के अधिकारियों ने अगली सूचना तक इंटर-सिटी और इंटर-प्रोविंस बस सेवाओं को सस्पेंड करने का ऐलान किया है। बता दें कि चीन में अब तक 95,1999 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं जिनमें से 4,636 मरीजों की मौत हुई है। किसी नये मरीज की मौत नहीं हुई है। स्वास्थ्य आयोग ने शनिवार को घोषणा की थी कि वह रोग नियंत्रण कार्य की निगरानी के लिए विशेषज्ञों को पुतियान भेज रहा है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Recommended News