Chinese Vaccine के क्लीनिकल ट्रायल को लेकर बांग्लादेश ने चीन को दिया बड़ा झटका

2020-10-14T12:36:13.637

ढाका: कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर चीन ने बांग्लादेश को बड़ा झटका देते हुए कोविड-19 वैक्सीन के ट्रायल पर पैसा लगाने से इनकार कर दिया है। बांग्लादेश के इस कदम के बाद अब वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल अब अधर में लटकता हुआ दिखाई दे रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने चीनी दवा निर्माता द्वारा अनुरोध की गई फंडिंग से मना कर दिया है। 

PunjabKesari

स्थानीय मीडिया से बातचीत के दौरान स्वास्थ्य मंत्री जाहिद मालेक के हवाले से कहा है कि कंपनी ने वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल के लिए परमिशन मांगते समय फंडिंग को लेकर कोई बात नहीं की थी। चीनी सरकार और हमारे बीच इस तरह का कोई भी कॉन्ट्रैक्ट नहीं हुआ है। सूत्रों की मानें तो चार हजार 200 वॉलंटियर्स पर क्लीनिकल ट्रायल का संचालन करने के लिए करीब 60 करोड़ बांग्लादेशी टका का खर्च आएगा। 

PunjabKesari

उन्होंने कहा कि उन्हें अपने पैसे से ट्रायल चलाना चाहिए क्योंकि उन्होंने मंजूरी मांगते समय खुद के पैसे से ट्रायल करने की बात कही थी। इसीलिए उन्हें अनुमति दी गई। चीन की सरकार और हमारे बीच इस तरह का कोई अनुबंध नहीं हुआ है। यह एक निजी कंपनी है और हम निजी कंपनी के साथ सह-वित्तपोषण (व्यवस्था) नहीं कर सकते हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बांग्लादेश को सिनोवैक की कोरोना वैक्सीन मिलेगी, भले ही परीक्षण योजना के मुताबिक बढ़े या ना बढ़े। 
 


Edited By

Anil dev

Related News