इस दिशा में लगाए गए पौधे बढ़ाएंगे घर में बरकत

12/8/2019 1:58:00 PM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
ये बात तो सब जानते ही हैं कि वास्तु के माध्यम से हम अपने आस-पास की नकरात्मक शक्ति को दूर कर सकते हैं। इसके साथ ही अगर घर में वास्तु दोष हो तो भी वास्तु में बताए गे मियमों को अपनाकर उसे दूर किया जा सकता है। वास्तु में बताए गए उपाय हमारे जीवन में ऊर्जा का संचार भरते हैं। वास्तु शास्त्र में दिशाओं का अध्ययन कर यह बताया गया है कि घर, भवन, मंदिर आदि कैसा होना चाहिए। यहां तक कि वास्तु विज्ञान यह बताता है कि घर में चीज़ें कहां और किस दिशा में होनी चाहिए।
PunjabKesari
हर घर में साज-सजावट के लिए पेड़-पौधे लगाए जाते हैं, लेकिन उसे हम किसी भी दिशा में लगा लेते हैं, जोकि बाद में हमें ही नुकसान पहुंचाते हैं। ऐसे में आज हम आपको हर एक पौधे को ऱखने के लिए सही दिशा व जगह के बारे में विस्तार से बताएंगे। 

वास्तु में उत्तर दिशा को बुध ग्रह की दिशा माना गया है। यह दिशा खुली और हवादार होनी चाहिए। इस दिशा में हरियाली का प्रबंध किया जाना चाहिए। 
PunjabKesari
उत्तर दिशा कुबेर का भी स्थान है। घर की उत्तर दिशा में आप तुलसी, केले का पेड़, गेंदा आदि लगा सकते हैं। ऐसा करने से आपके घर वालों को चर्म रोग नहीं होगा।

वास्तु के अनुसार पूर्व की दिशा सूर्य ग्रह की होती है। इस दिशा में हरी घास बिछाई जा सकती है। ऐसा करने से आपके घर वालों को सूर्य देव की कृपा से समाज में आत्म-सम्मान, यश और आरोग्य जीवन प्राप्त होगा।
PunjabKesari
वास्तु के अनुसार दक्षिण दिशा मंगल की होती है। इस दिशा में लाल पुष्प के पौधे लगाने शुभ होते हैं। इससे घर में किसी तरह की बाधाएं नहीं आती है। 

घर की पश्चिम दिशा चंद्रमा की दिशा मानी जाती है। इस दिशा में चमेली, बेला, एलोवेरा, कड़ी पत्ता आदि के पौधे लगाने से घर का वातावरण शुद्ध रहता है।


Lata

Related News