Shardiya Navratri 2021: इन 9 दिनों में मां को जरूर चढ़ाएं उनके मनपसंद फूल

punjabkesari.in Saturday, Oct 09, 2021 - 08:46 PM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
शारदीय नवरात्रि में देवी भगवती यानि देवी दुर्गा के विभिन्न नौ रूपों की विधि वत रूप से पूजा अर्चना की जाती है। इतना ही नहीं इन नौ दिनों में देवी दुर्गा के विभिन्न स्वरूपों की आराधना के अलावा कई तरह के उपाय आदि भी किए जाते हैं। तो वहीं धार्मिक, ज्योतिष व वास्तु शास्त्र में भी इससे जुड़ी कई बातों का उल्लेख मिलता है। आज हम आपको इस आर्टिकल में कुछ ऐसी ही जानकारी देने वाले हैं, जो इन तीनों शास्त्रों में बताई गई है। जैसे कि सब जानते हैं शारदीय नवरात्रि के दौरान मूर्ति स्थापना, घटस्थापना, कलश पूजा, व्रत, गरबा, दुर्गा पूजा, हवन, कन्या भोज और विसर्जन किया जाता है। तो वहीं इस दौरान आप माता को प्रसन्न करने के लिए उनके मंदिर में जाते हैं ताकि देवी मां उन पर प्रसन्न हो। शास्त्रों के अनसुार अगर व्यक्ति  मंदिर जाकर देवी मां की पूजा अर्चना के दौरान उन्हें उनके मनपसंद फूल अर्पित किए जाएं तो माता रानी अधिक प्रसन्न होती है। तो आइए जानते हैं किन देवी को कौन से फूल अर्पित करने चाहिए। 

शैलपुत्री: मां शैलपुत्री को गुड़हल का लाल फूल और सफेद कनेर के फूल अर्पित करना चाहिए। 

ब्रह्मचारिणी: मां ब्रह्मचारिणी को गुलदाउदी का फूल अर्पित करना चाहिए।

चंद्रघंटा: मां चंद्रघंटा को कमल का फूल और शंखपुष्पी का फूल बेहद पसंद हैं, मां के चरणों में ये फूल करने चाहिए। 

कूष्मांडा: मां कुष्मांडा को चमेली का फूल या पीले रंग का कोई भी फूल अर्पित किया जा सकता है।  

स्कंदमाता: मां को पीले रंग के फूल बहुत पसंद हैं, इसलिए इन्हें ये फूल अर्पित कर सकते हैं।

कात्यायनी: मां कात्यायनी को गेंदे का फूल और बेर के पेड़ का फूल अर्पित करना चाहिए। 

कालरात्रि: माता कालरात्रि को नीले रंग का कृष्ण कमल का फूल या फिर नीले रंग का फूल अर्पित कर सकते हैं। 

महागौरी: माता महागौरी को मोगरे के फूल बेहद प्रिय है, इन्हें प्रसन्न करने के लिए यू फूल अर्पित करने चाहिए। 

सिद्धिदात्री: मां को चंपा और गुड़हल का फूल बेहद प्रिय है, इन्हें प्रसन्न करने के लिए ये फूल अर्पित करें। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News