आप पर भी चल रही है शनि की साढे़साती तो शनिवार के दिन करें ये उपाय

06/26/2021 11:09:06 AM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि अपनी साढ़ेसाती, ढैया या  महादशा व अंतर्दशा के दौरान शुभ फल नहीं दे रहे हो या शुभ फलों में कहीं कमी आ गई हो तो प्रत्‍येक शनिवार को निम्न बताए गए उपाय करने चाहिए। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि देव की क्रूर दृष्टि से बचने के लिए व्यक्ति को गलत कार्यों को करने से बचना चाहिए। गरीब और मजबूर व्यक्तियों को कभी सताना नहीं चाहिए। ऐसा करने से शनि देव बहुत जल्दी नाराज होते हैं। शनि देव को प्रसन्न करने के लिए शनिवार और मंगलवार को हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए और शनि का दान देना चाहिए। इसके अलावा कौन से उपाय करने चाहिए, आइए जानते हैं यहां- 

शनि देव की कृपा पाने के लिए शनि मंत्र का संकल्‍पपूर्वक जप करना चाहिए। 

"ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्‍चराय नम:"

प्रत्‍येक शनिवार को इस मंत्र का कम से कम 3 माला जरूर जप करना चाहिए। 

या फिर शनि के मंत्र "ॐ शं शनिश्चरायै नमः" का जाप 3 माला रोज शाम को करना चाहिए। 

शनिवार के दिन सुंदरकांड का पाठ करने से सभी जातकों के ऊपर से शनि के अशुभ प्रभाव दूर होते हैं। 

शनिदेव के दिन सरसों का तेल, उड़द, काला कपड़ा, जूते आदि का दान करें।

शनिवार के दिन कटोरी में सरसों का तेल डालकर उसमें अपना चेहरा देखें और उस तेल को दान करें। 

मुसीबत में पड़े लोगों की मदद करें ।

दोनों समय भोजन में काला नमक और काली मिर्च का प्रयोग करें ।

काला छाता का भी दान उत्तम माना गया है।

रोगियों की सेवा करें।

साढ़े साती व शनि की ढैया के दौरान किसी से भी बहस करने से बचना चाहिए।

ड्राइविंग करते समय सतर्क रहना चाहिए।

रात में अकेले यात्रा करने से बचना चाहिए।

शनिवार और मंगलवार को शराब के सेवन से बचना चाहिए।

शनि का शुभ परिणाम पाने के लिए अपने माता-पिता को हमेशा सम्मान देना चाहिए और अपना आचरण बिल्कुल सही रखना चाहिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Recommended News