Ram Navami 2021: रामनवमी का व्रत रखने से पहले पढ़ें ये जरुरी जानकारी

2021-04-20T07:14:19.177

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Ram Navami 2021: रामनवमी का पर्व केवल हमारे देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में बैठे भारतीय मूल के लोगों द्वारा बड़ी श्रद्धा और आस्था के साथ मनाया जाता है। रामनवमी के दिन ही चैत्र नवरात्र की समाप्ति भी हो जाती है। हिंदु धर्म शास्त्रों के अनुसार इस दिन भगवान श्री राम जी का जन्म हुआ था अत: इस शुभ तिथि को भक्त लोग रामनवमी के रूप में मनाते हैं एवं पवित्र नदियों में स्नान करके पुण्य के भागीदार होते हैं।

PunjabKesari Ram Navami

Ram navami puja vidhi in hindi: रामनवमी के दिन विधि पूर्वक भगवान राम की पूजा करने से जीवन में आनी वाली परेशानियां दूर होती हैं और भगवान राम की कृपा प्राप्त होती है। आज के दिन व्रत रखकर भगवान श्रीराम और रामचरितमानस की पूजा करनी चाहिए। आप श्री राम स्तुति और राम रक्षास्तोत्र का पाठ भी कर सकते हैं।

इस पावन दिन पर जल्दी उठ कर स्नान करने के बाद स्वच्छ वस्त्र पहन लें।

अपने घर के मंदिर में दीप प्रज्वलित करें।

घर के मंदिर में देवी- देवताओं को स्नान कराने के बाद साफ-स्वच्छ वस्त्र पहनाएं।

भगवान श्रीराम की मूर्ति को शुद्ध पवित्र ताजे जल से स्नान करवाकर नवीन वस्त्राभूषणों से सुसज्जित करें और फिर धूप दीप, आरती, पुष्प, पीला चंदन आदि अर्पित करते हुए भगवान की पूजा करें।

PunjabKesari Ram Navami

भगवान राम की प्रतिमा या तस्वीर पर तुलसी का पत्ता और फूल अर्पित करें।

भगवान को फल भी अर्पित करें।

 भगवान श्रीराम को दूध, दही, घी, शहद, चीनी मिलाकर बनाया गया पंचामृत तथा भोग अर्पित किया जाता है।

 भगवान श्रीराम का भजन, पूजन, कीर्तन आदि करने के बाद प्रसाद को पंचामृत सहित श्रद्धालुओं में वितरित करने के बाद व्रत खोलने का विधान है।

पूजा समाप्त करने से पूर्व आरती करें।
PunjabKesari Ram Navami

Ram Navami 2021 Date Shubh Muhurat Puja: राम नवमी पर पंचांग के अनुसार पूजा का मुहूर्त 21 अप्रैल को सुबह 11 बजकर 02 मिनट से दोपहर 01 बजकर 38 मिनट तक बना हुआ है। पूजा मुहूर्त की अवधि 02 घंटे 36 मिनट की है।

गुरमीत बेदी 
gurmitbedi@gmail.com


Content Writer

Niyati Bhandari

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static