Motivational Concept: प्रेम के लिए जाना जाता है भारत देश

punjabkesari.in Saturday, Oct 01, 2022 - 12:11 PM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
द्वितीय विश्वयुद्ध का प्रसंग है। जापानी सैनिक के कंधे में गोली लगी और वह लडखड़ा कर नीचे गिर पड़ा। एक भारतीय सैनिक ने देखा। उसकी मानवता जाग उठी। वह जापानी सैनिक के पास गया और उसके जमीन पर पड़े सिर को अपनी गोद में उठा लिया। अपने पास में से चाय का एक गिलास भरकर उसके मुंह से लगाते हुए कहा, प्यारे मित्र! महावीर और बुद्ध देश के सैनिक कितने बहादुर होते हैं, यह तुमने मोर्चे पर देखा है, अब इसी के हाथ से प्रेमपूर्वक चाय भी पी लो।

जापानी सैनिक के मन में प्रतिशोध की भावना जाग उठी। उसने अपनी जेब में से चाकू निकाला और मार दिया। भारतीय सैनिक के मन में यह कल्पना ही नहीं थी कि जीवन के अंतिम क्षणों में वह इस प्रकार नेकी का बदला लेगा। भारतीय सैनिक के हाथ में से  गिलास और बोतल गिर पड़ी और वह जमीन पर लुढ़क पड़ा। चाकू का घाव प्राण घातक नहीं था। तीसरे दिन जब उसे होश आया और डाक्टर ने पलंग पर करवट बदलाई, तो तीसरे पलंग पर उसी जापानी सैनिक को कराहते हुए देखा।

जब भारतीय सैनिक चलने-फिरने लायक हुआ तो वह अपने पलंग से उठा और चाय का प्याला लेकर उस जापानी सैनिक के पास पहुंचा और मुस्कुराते हुए चाय का प्याला उसके हाथ में थमा दिया और कहा-उस दिन चाय पिलाने की इच्छा पूर्ण न हो सकी थी पर भाग्य से आज पुन: वह सुनहरा अवसर मिल रहा है, जिससे मेरे मन में बहुत शांति है। 

जापानी सैनिक को आत्मग्लानि हो रही थी। भारतीय सैनिक ने पूछा, भाई, क्या बात है? 

आज मुझे मालूम हुआ कि भारत में भगवान महावीर और भगवान बुद्ध का जन्म क्यों हुआ? 

कहते-कहते जापानी सैनिक का दिल भर आया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News