क्या आप भी बार-बार हो रहे हैं दुर्घटना ग्रस्त तो करें ये उपाय

punjabkesari.in Wednesday, Nov 30, 2022 - 12:53 PM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
हर व्यक्ति के जीवन में उतार-चढ़ाव आते हैं। कहा जाता है कोई ऐसा व्यक्ति नहीं है जिसको अपने जीवन में किसी समस्या के चलते परेशान न हो। परंतु ये परेशानी तब बढ़ जाती है जब इस परेशानी का कारण बार-बार दुर्घटना का शिकार होना है। आप में से बहुत से ऐसे लोग होंगे जिनके साथ छोटे-मोटे हादसे होते रहते हैं, परंतु कई लोग ऐसे होते हैं जिनके साथ बार-बार हादसे या दुर्घटनाएं होती रहती हैं जिसके चलते परेशानी व समस्याएं बढ़ती जाती है। बहत से लोग इन सब बातों से परेशान होकर अक्सर इस सोच में पड़ जाते हैं कि आखिर बार-बार ऐसा क्यों होता है तो आपको बता दें इसका कारण कई बार कुंडली में मौजूद ग्रहों की उल्टी सीधी चाल हो सकती है। जी हां, ज्योतिष शास्त्रियों का मानना है कि कुंडली के मंगल, शनि और राहु को दुर्घटनाकारक ग्रह बताया गया है। यदि कुंडली में ये 3 ग्रह अशुभ स्थिति में हो तो जातक को अक्‍सर चोट लगती रहती है। लेकिन शास्त्रों में इन स्थितियों से बचने के लिए कुछ असरदार उपाय भी बताए गए है। जो आपको बार-बार होने वाली दुर्घटना व चोट से बचाने से शुभ साबित होंगे। तो आइए जानते हैं ये उपाय-

आपका बच्चा अत्यधिक चंचल है तो बच्चे को गले में अर्धचन्द्र का लॉकेट पहनाकर रखें। इससे बच्चे की सेहत भी अच्छी रहती है साथ ही बार-बार चोट लगने की संभावना भी कम हो जाती है। आप चाहे तो बच्चे को चांदी की अंगूठी में मोती डालकर भी पहना सकते हैं। इससे हादसों की आशंकाएं कम होती है। 
PunjabKesari

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, व्यक्ति को हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि सोते समय बच्चे के सिरहाने की ओर कभी भी पानी न रखें।

हर मंगलवार के दिन हनुमान जी के मंदिर जाकर उनके समक्ष चमेली के तेल का दीपक जलाएं और बच्चे के साथ हनुमान चालीसा का पाठ करें। यदि आप घर पर हनुमान चालीसा का पाठ कर रहे हैं तो दक्षिण या पश्चिम दिशा की तरफ मुख करके पाठ करें। इस उपाय को करने से आपके घर में बड़े बुजुर्गों और बच्चों दोनों का ही बजरंगबली की कृपा से दुर्घटनाओं से बचाव होता है।
PunjabKesari

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें
PunjabKesari

इसके अलावा अगर आपके घर में किसी को अत्यधिक चोट लगती रहती है तो हनुमान जी के मंदिर में जाकर पंडित से हाथ में ममबंधवाएं। यह आपके घर के सदस्यों व बच्चों के रक्षा कवच की तरह काम करेगा। इतना ही नहीं प्रत्येक मंगलवार के दिन मंदिर में गुड़ चने का प्रसाद बांटे। इससे आपको बार बार चोट या दुर्घटना होने की संभावना कम हो जाती है।
PunjabKesari
तो वहीं दुर्घटनाओं या बार बार लगने वाली चोट से बचने के लिए पक्षियों को लाल मसूर की दाल खिलानी चाहिए। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इससे आपको जल्द ही शुभ परिणाम मिलने लगते हैं।

इसी के साथ जब भी घर का कोई सदस्य या बच्चे घर से बाहर जाए तो उससे पहले हमेशा मुंह में कुछ मीठा डालकर और राम राम कहकर निकलें। इससे पूरा दिन आप पर भगवान की कृपादृष्टि बनी रहती है।

मान्यताओं के मुताबिक, लोहे या तांबे की अंगूठी में मून स्टोन पहनने से दुघर्टनाओं के योग कम होते हैं।
PunjabKesari

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News