Chaitra Navratri 2021: देवी दुर्गा की घोड़े पर सवारी, देश के लिए होगी शुभ या अशुभ

2021-04-13T15:24:51.61

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
यूं तो साल भर में कुल 4 बार नवरात्रि का आते हैं, परंतु चैत्र मास में पड़ने वाले नवरात्रि को खासा महत्व प्रदान है। हिंदू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार नवरात्रों के नौ दिनों में देवी दुर्गा के विभिन्न नौ रूपों की पूजा होती है। अगर बात करें इस वर्ष के चैत्र नवरात्रों की तो चूंकि इस बार 13 अप्रैल को इसके साथ हिंदू नव वर्ष की भी शुरूआत हुई है। जिस कारण इस दिन का महत्व कई गुना बढ़ गया है। बता दें  मां का ये पर्व आज से शुरू होकर 21 अप्रैल तक चलेगा। जिस दौरान मां के भक्त या उपासक पूरे हर्षो-उल्लास के साथ शक्ति के इस पर्व को मनाएंगे।  

बताया जा रहा है नवरात्रि के आरंभ के साथ ही हिन्दू नववर्ष-2021 की शुरुआत भी हो चुकी है। ज्योतिषियों का मानना है कि इस बार महिसासुर मर्दिनी का आगमन दुराचारी, राक्षसी प्रवृत्ति के लोगों के लिए काल बनकर आया है। इसके अलावा ये चैत्र नवरात्रि का पर्व देश के लिए कैसा साबित होने वाला है। आइए जानते हैं, साथ ही जानेंगे इस दौरान व्यक्ति को क्या करना चाहिए। 

माना जा रहा है कि इस बार यानि चैत्र नवरात्रि पर मां दुर्गा का आगमन घोड़े पर होने वाला है। यूं तो दुर्गा माता का वाहन सिंह माना जाता है लेकिन प्रत्येक वर्ष नवरात्रि के समय पर माता अलग-अलग वाहनों पर सवार होकर धरती पर पधारती हैं। ज्योतिश शास्त्रियों तथा देवी भागवत पुराण के मुताबिक मां दुर्गा के आगमन के साथ इस बार भविष्य की नकारात्मक घटनाओं के होने का संकेत माना जा रहा है। यानि कहा जा रहा है कि इस बार मां दुर्गा का घोड़े पर बैठकर आना शुभ नहीं बल्कि अशुभ संकेत माना जा रहा है। इससे पहले भी हमने आपको अपने वेबसाइट के माध्यम से बताया था कि देवी भगवत के श्लोक के मुताबिक नवरात्रि का प्रांरभ जिस दिन से होता है उसी दिन के अनुसार उनकी सवारी निर्धारित होती है। 

शास्त्रों में इससे जुड़े श्लोक के अनुसार- 
शशिसुरये गजा रूढ़ा ,शनि भौमे तुरंगमे । गुरौशुक्रेच दोलायांग ,बुधे नौका प्रकीर्तिता ॥

सोमवार-रविवार–हाथी
शनिवार-मंगलवार–घोड़ा
गुरुवार-शुक्रवार–डोली
बुधवार-नौका

किस दिन कौन-सी देवी की होगी पूजा:-
पहला दिन: 13 अप्रैल 2021, मां शैलपुत्री पूजा

दूसरा दिन: 14 अप्रैल 2021, मां ब्रह्मचारिणी पूजा

तीसरा दिन: 15 अप्रैल 2021, मां चंद्रघंटा पूजा

चौथा दिन: 16 अप्रैल 2021, मां कूष्मांडा पूजा

पांचवां दिन: 17 अप्रैल 2021, मां स्कंदमाता पूजा

छठा दिन: 18 अप्रैल 2021, मां कात्यायनी पूजा

सातवां दिन: 19 अप्रैल 2021, मां कालरात्रि पूजा

आठवां दिन: 20 अप्रैल 2021, मां महागौरी पूजा

नौवां दिन: 21अप्रैल 2021, मां सिद्धिदात्री पूजा

बता दें नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा की पूजा-अर्चना व उपासना करनी चाहिए। खासतौर पर इस दौरान जातक को वाद-विवाद से बचना चाहिए। कटु वचन बोलने से बचना चाहिए तथा इस दौरान ब्रह्यचर्य का पालन करना चाहिए।


Content Writer

Jyoti

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static