पांच ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनाने में स्टार्टअप का होगा बड़ा योगदान: प्रभु

12/7/2019 9:58:59 PM

मुंबईः पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद सुरेश प्रभु ने शनिवार को कहा कि भारत को पांच साल में पांच हजार अरब डालर की अर्थव्यवस्था बनाने में स्टार्टअप कंपनियों का बड़ा योगदान होगा।

प्रभु ने यहां एक कार्यक्रम में कहा, ‘तो, जब हम पांच हजार अरब डालर की अर्थव्यवस्था की बात करते हैं तो यह प्रमुख रूप से स्टार्टअप की ओर से आएगी। पूरी दुनिया में यह अपरिहार्य रूप से होने जा रहा है। हमें अपने प्रधानमंत्री का कृतज्ञ होना चाहिए कि उन्होंने इसको समझा और उनके पास भारतीय अर्थव्यवस्था के बदलते परिदृश्य को समझने की दृष्टि है।' उन्होंने कहा कि आर्थिक वृद्धि में मौजूदा कंपनियों के साथ साथ भविष्य में आने वाली कंपनियों का योगदान होगा। भारतीय अर्थव्यवस्था 2019 में 2.7 हजार अरब डालर की हो गई है।

पिछले पांच साल में देश का सकल घरेलू उत्पाद एक हजार अरब डालर बढ़ा है। मौजूदा आर्थिक नरमी के बारे में उन्होंने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था की रफ्तार धीमी हो रही है। इसका असर भारत पर भी पड़ा है। उन्होंने कहा कि पांच हजार अरब डालर की अर्थव्यवस्था के लिए उद्योग, सेवा और कृषि तीनों क्षेत्रों की भूमिका होगी।

 


Pardeep

Related News