डर के आगे अनुशासन है... एक हफ्ते में 5 लाख से ज्यादा गाड़ियों की हुई प्रदूषण जांच

9/9/2019 4:50:26 AM

नई दिल्ली: क्या चालान का डर है या ट्रैफिक पुलिस की मुस्तैदी, जिसके चलते राजधानीवासी इन दिनों दिन में ही नहीं, रात में भी पॉल्यूशन सर्टिफिकेट लेने के लिए लाइनों में लगे हैं। यही नहीं इश्योरेंस कंपनियों की भी चांदी हो गई है। आपको जानकर हैरानी होगी कि 2 सितम्बर से 7 सितम्बर तक राजधानी में 5 लाख से ज्यादा लोग अपनी गाडिय़ों का पॉल्यूशन प्रमाण पत्र ले चुके हैं। 

यही नहीं 3 लाख से ज्यादा ऐसी गाडिय़ों का इश्योरेंस हुआ है, जिन्होंने गाडिय़ां तो खरीदी हैं, लेकिन उनका इश्योंरेंस कभी रिन्यू नहीं कराया। ये आंकड़ा निजी एजेंसी ने जुटाया और इसकी जानकारी टै्रफिक पुलिस और दिल्ली ट्रांसपोर्ट विभाग को दी है। इस बात से ट्रैफिक पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी इत्तेफाक रखते हैं कि महंगे जुर्माने से बचने के लिए लोग अब सजग हो रहे हैं और ट्रैफिक नियमों का पालन करने लगे हैं।

सबसे ज्यादा लापरवाह हैं दोपहिया वाहन चालक
जांच में आया है कि पॉल्यूशन और इंश्योरेंस करवाने में सबसे ज्यादा लापरवाही दो पाहिया वाहनों ने बरती है,दिए गए आंकड़ों के तहत अब तक 5 लाख 32 हजार से ज्यादा पॉल्यूशन प्रमाण दिल्ली में जारी किए गए, जिनमें से 3 लाख 27 हजार से ज्यादा प्रमाण पत्र दोपहिया वाहनों के ही हैं। इसके बाद लग्जरी गाडिय़ों का नंबर है,जिन्होंने कभी भी पॉल्यूशन कराने की जहमत नहीं उठाई। 

हालांकि कमर्शियल वाहनों में टैक्सी और छोटी कारें सबसे ज्यादा फिट मिली और पाया गया कि ये लोग समय पर या फिर कभी देरी से ही सही लेकिन पॉल्यूशन चैक जरुर कराते हैं। वहीं इंश्योरेंस के आंकड़ों के तहत दो पाहियों वाहनों ने इश्योंरेंस में भी लापरवाही बरती। हाल में जुटाए गए आंकड़ों के तहत 3 लाख 21 हजार से ज्यादा इश्योरेंस किए गए है,जिनमें 2 लाख 12 हजार से ज्यादा इश्योंरेंस दो पहिया वाहनों के ही हैं। बता दे कि ये इश्योरेंस कराने वाले वो वाहन हैं जिन्होंने पिछले साल ही नहीं बल्कि कई सालों से अपनी गाडिय़ों का इंश्यारेंस ही नहीं रिन्यू कराया था। 

बढ़ाए जा रहे हैं पॉल्यूशन सेंटर 
पॉल्यूशन सेंटरों पर बढ़ती भीड़ को देखते हुए सरकार ने कदम उठाए हैं। उन्होंने कई पेट्रोल पंपों पर सेंटरों को बढ़ाया है। बताया जाता है कि भारत पेट्रोलिम में 611 पेट्रोल पंप है जिनमें से 421 जगहों पर ही पॉल्यूशन सेंटर थे,लेकिन सोमवार से सभी 611 पेट्रोल पंपों पर ये सेंटर चालू कर दिए जाएंगे। इसी तरह अन्य पेट्रोल पंपों पर भी सेंटर बढ़ाए जा रहे हैं। 

7 दिनों में पॉल्यूशन और इंश्योरेंस प्रमाण पत्र

  •  5 लाख 32 हजार से ज्यादा पॉल्यूशन प्रमाण पत्र हुए जारी 
  •  3 लाख 27 हजार प्रमाण पत्र दो पहिया वाहनों के जारी हुए
  •  3 लाख 21 हजार से ज्यादा कारों के इंश्योरेंस जारी हुए
  •  अब तक ट्रैफिक पुलिस ने 35 हजार से ज्यादाकाटे हैं चालान
  •  प्रतिदिन औसतन 4 से 5 हजार काटे जा रहे हैं चालान 
  •  गत दिनों की तुलना में चालान में आई 35 फीसदी की कमी
  • महंगे जुर्माने से बचने के लिए लोग अब हो रहे हैं सतर्क
  • जिन्होंने अब तक अपनी कारों का इंश्योरेंस नहीं कराया है, वे अब लाइन में लगकर ले रहे हैं टोकन


आज से स्पेशल अभियान चलाया जाएगा 
इस संबंध में ट्रैफिक पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ट्रैफिक के नियमों के पालन के लिए सोमवार से स्पेशल ड्राइव चलाई जा रही है। जो आंकड़े आए है उसके बाद से दो पहिया और कमर्शियल वाहनों के खिलाफ विशेष अभियान छेड़ा जाएगा। अधिकारी ने बताया कि फिलहाल कोर्ट के ही चालान काटे जा रहे हैं यही नहीं कुछ दिन राजधानी में लोगों को मौके पर भी दिए गए कि वे खुद भी सुधरें, इसलिए ट्रैफिक पुलिस ने अधिकांश जगहों पर लोगों के चालान की जगह हिदायतें भी दी। लेकिन सोमवार से विशेष ड्राइव के तहत अगर वाहन मालिक नियमों का पालन नहीं करता पाया गया तो चालान तो होगा ही, साथ ही परिस्थितियों को देखते हुए वाहनों को भी जब्त किया जाएगा। 

हम स्वयं चाहते हैं कि राजधानी के लोग ट्रैफिक नियमों का पालन करें, अगर वे कागजात पूरे रखेंगे और लेन में चलेंगे तो ट्रैफिक पुलिस उन्हें परेशान क्यों करेगी। यही नहीं अगर ट्रैफिक पुलिस उसके बाद भी किसी को बेवजह परेशान करती है तो सीधे हेल्पलाइन नंबर या फिर ट्रैफिक पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से मिल उनकी शिकायत कर सकते हैं।-ताज हसन, स्पेशल सीपी यातायात


Pardeep

Related News